डा. महेंद्र पाल सिंह बने आयुर्वेदिक एवं यूनानी सेवाओं के निदेशक

डा. वाईएस रावत सेवानिवृत्त

अविकल उत्त्तराखण्ड

देहरादून। निदेशक आयुर्वेदिक एवं यूनानी सेवा उत्तराखंड डा. वाईएस रावत आज सेवानिवृत्त हो गए हैं। निर्वतमान निदेशन डा. रावत ने आज नए निदेशक डा. महेंद्र पाल सिंह को चार्ज दिया है।


आज आयुर्वेदिक एवं यूनानी निदेशालय में निर्वतमान निदेशक डा. वाईएस रावत को विदाई दी गई। डॉ. रावत ने कोरोना काल में सराहनीय कार्यों के लिए आयुष कर्मचारियों का आभार व्यक्त किया। साथ ही नए निदेशक से कर्मचारियों की समस्याओं के निराकरण की अपेक्षा की। नवनियुक्त निदेशक डॉ. महेंद्र पाल सिंह ने कहा कि राज्य आयुष सेवाओं को सुधारना उनकी प्राथमिकता है। सभी कर्मचारियों की समस्याओं के समाधान के लिए वे निरंतर प्रयास करेंगे।
राजकीय आयुर्वेदिक एवं यूनानी चिकित्सा सेवा संघ के महासचिव डा. हरदेव सिंह रावत ने चिकित्सक संवर्ग के व्यक्ति पुनः निदेशक बनाने जाने पर आयुष मंत्री डा. हरक सिंह रावत और सचिव का आभार व्यक्त किया।
इस मौके पर राजकीय आयुर्वेदिक एवं यूनानी चिकित्सा सेवा संघ के अध्यक्ष डा. केएस नपलच्याल, संयोजक डा. डीडी बधानी, डा. जेएन नौटियाल, डा. सुशील कुमार चैकियाल, संयुक्त निदेशक डा. रघुवीर सिंह पाल, गिरीश चंद्र जंगपागी, जिला आयुर्वेदिक अधिकारी देहरादून मिथिलेश कुमार, जिला आयुर्वेदिक एवं यूनानी अधिकारी नैनीताल डा. महेंद्र सिंह गुंजियाल और डा. हर्ष सिंह धामी सहित कई अन्य लोग मौजूद थे।

Nalanda
Flower

अपनी प्रतिक्रिया साझा करे

error: Content of this site is protected under copyright !!