चारधाम में बुद्धि शुद्धि यज्ञ, देवस्थानम बोर्ड भंग नहीं हुआ तो 21 से उग्र आंदोलन

आंदोलन की राह पर चले चार धाम के तीर्थ पुरोहित

रुद्रप्रयाग, चमोली व उत्तरकाशी जिले के लोगों के लिए 1 जुलाई व प्रदेशवासियों के लिए 11 जुलाई से शुरू होगी चारधाम यात्रा- सुबोध उनियाल, शासकीय प्रवक्ता

अविकल उत्त्तराखण्ड

बदरीकेदार/यमुनोत्री/गंगोत्री। हाईकोर्ट की फटकार व कोरोना के खतरे की सरगर्मी के बीच भाजपा सरकार ने चारधाम यात्रा शुरू करने के लिए कमर कस ली है। उधर, तीर्थ पुरोहित भी आर पार की लड़ाई को नये सिरे से कमर कस रहे हैं।

देवभूमि तीर्थ पुरोहित हकहकूकधारी महापंचायत के आह्वान पर आज चारों धामों के पुरोहितों एवं इन मंदिरों से जुड़े हक हुकूकधारियों ने राज्य सरकार की बुद्धि और शुद्धि के लिए हवन एवं यज्ञ किया। इस दौरान तीर्थ पुरोहितों ने राज्य सरकार को चेतावनी दी कि यदि वह देवस्थानम बोर्ड से संबंधित पुनर्विचार की घोषणा पर अमल नही करती है , तो चारों धामों में उग्र आंदोलन किया जाएगा । कल निर्जला एकादशी (21जून) से चारों धामों में सरकार के खिलाफ अनिश्चितकालीन धरना एवं प्रदर्शन शुरू किया जाएगा।

महापंचायत के प्रवक्ता डॉ बृजेश सती ने बताया कि मुख्यमंत्री द्वारा कई बार सार्वजनिक रूप से देवस्थानम बोर्ड पर पुनर्विचार विचार एवं देवस्थानम बोर्ड में लिए गए 51 मंदिरों को इससे मुक्त करने की घोषणा की गई थी लेकिन 2 महीने से अधिक का समय बीत जाने के बावजूद भी राज्य सरकार द्वारा इस दिशा में कोई पहल नहीं की गई। इससे नाराज चारों धामों कके तीर्थ पुरोहित आंदोलन की राह पर हैं।

उन्होंने बताया कि आज तय कार्यक्रम के अनुसार गंगा दशहरा के दिन चारों धामों में सरकार की बुद्धि की शुद्धि के लिए यज्ञ एवं हवन आयोजित किया गया। बताया कि कल निर्जला एकादशी से चारों धामों में अनिश्चितकालीन धरना एवं प्रदर्शन शुरू होगा। प्रवक्ता ने जानकारी दी कि है तीर्थ पुरोहितों का आंदोलन का पहला चरण है। यदि सरकार समय रहते अपनी घोषणा पर कायम नहीं रहती है, तो उसके बाद द्वितीय चरण में उग्र आंदोलन किया जाएगा।

यमुनोत्री धाम में यमुनोत्री तीर्थ पुरोहित महासभा के अध्यक्ष पुरुषोत्तम उनियाल के नेतृत्व में यज्ञआयोजित किया गया। इस दौरान मंदिर समिति के पदाधिकारी लखन,अमित उनियाल, सुरेश उनियाल, राजस्वरूप, विपिन, अनुरूद उनियाल भी मौजूद रहे ।
गंगोत्री धाम में महासचिव दीपक सेमवाल के नेतृत्व में सरकार की बुद्धि की शुद्धि के लिए यज्ञ किया गया। इस दौरान रावल रविंद्र सेमवाल,राकेश सेमवाल, अरुण सेमवाल, राजेश सेमवाल ,सुभाष, संजय सेमवाल आदि उपस्थित रहे।


बदरीनाथ धाम स्थित ब्रहमकपाल तीर्थ में संजय सवाल व मदन कोटियाल ने हवन किया।
केदारनाथ धाम में केदारनाथ तीर्थ पुरोहित महासभा के अध्यक्ष विनोद शुक्ला के नेतृत्व में बुद्धि शुद्धि यज्ञ किया गया ।इस दौरान केदार सभा महामंत्री राजकुमार, पूर्व केदार सभा अध्यक्ष किशनबगवाड़ी , उमेश पोस्ती, आचार्य संजय तिवारी ,चमन लाल शुक्ला ,राम प्रसाद शुक्ला ,आलोक महाराज शनि देव, शशि अवस्ती तीर्थ पुरोहित मौजूद थे।

चारधाम यात्रा शुरू करने की तैयारी, देखें लिंक

Pls clik

चारधाम यात्रा एक जुलाई से, मयखाने खुलेंगे,कर्फ्यू 29 जून तक

मौत का खतरा कम, रविवार को 4 मौत,नरेन्द्रनगर में 5 बैकलॉग डेथ

किसने कहा कि मैं भी ट्रक में बैठ अवैध खनन पकड़ सकता हूँ, वीडियो देखें

अपनी प्रतिक्रिया साझा करे

error: Content of this site is protected under copyright !!