zydex

कोरोना संकट दूर करने के लिए देहरादून के प्रसिद्ध डॉ जोशी जी ने दिए कुछ खास टिप्स।

दोस्तों लाक्डाउन धीरे धीरे समाप्त हो रहा है ।आप सभी ने अपने स्तर से इस अदृश शत्रु को अपने ओर अपने परिवार ओर मित्रों से दूर रखा । आप बधाई के पात्र है। अब में जो बता रहा हूँ आपके के आगे के लिए सुखद होगा ।

मै बात कर रहा हूँ energy की जी हाँ शक्ति जो दो प्रकार की होती है एक पॉज़िटिव ओर दूसरी नेगेटिव अब हमें क्या करना चाहिये कि हमारे पास पॉज़िटिव एनर्जी रहे ओर जहां भी जाए लोग खुश हो कि कोई आया है हमारे पास, ओर आपसे मिलकर खुश हो जाए या रिलैक्स महशूश करे।
हमारे शरीर मै या कहें दिमाग़ में कुछ हार्मोन बनते है या यूँ कहें होते है जो हमें खुश रखते है दूसरों के प्रति हमारे मन में अच्छे भाव पैदा करते है । कोन , कोन से है ये ओर हम कैसे इनकी मात्रा बढ़ा सकते हैं इस पर संक्षेप में आप लोगों को बताना चाहता हूँ ।
इन रासायनिक तत्वों को HAPPY HORMONES भी कहते है।ये मुख्यतः चार प्रकार के होते हैं

१.DOPAMINE

२.ENDORPHINES

३. SEROTONINE

४.OXYTOCINE

जी हाँ यही है जो हमें खुश रखते है ।
अब सबसे पहले dopamine ये हमारे दिमाग़ को ओर शरीर के अलग अलग जगह पर काम करता है । अमूमन इसको BP बढ़ाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है । ICU मै अक्सर इसका इस्तेमाल होता है । इस की वजह से शरीर मै स्फूर्ति , कुछ नया करने का मन , भावुकता एवं अवसाद को दूर करना , अच्छा सोचना ओर याद दास्त बढ़ाने जैसे काम होते हैं । अगर इसकी मात्रा कम हो जाए तो विभिन्न्न बिक़ार हो जाते है जैसे बोर होना कुछ करने का मन नही होना या ईच्छा नही होना ओर उत्साह मै कमी होना ।अब इसकी मात्रा कैसे बढाई जाए । इसके लिए १- रोज़ व्यायाम २-ध्यान (Meditation) ३- अच्छी नींद ४-स्वदिषट् भोजन इत्यादि ।
दूसरा है ENDORPHINE जी हाँ ये आपके शरीर मै आनंद की अनुभूति करवाना,दर्द कम महशूश होना , सच्चा एवं अच्छा लगना,ओर अपने को सुखी महशूस करना जैसे भावनाएँ पैदा करता है । या यूँ कहिये जैसा एक अफ़ीम या मोरफ़िन का नशा करने वाला फ़ील करता है वैसा ही लगता है । इसकी मात्रा बढ़ाने के लिए आपको व्यायाम योग तो करना ही है साथ मै ख़ूब हँसना ओर हँसाना है मतलब ओरो की ज़िंदगी मै ख़ुशहाली लानी है । खाने मै जो आपको सबसे पसंद हो वह खाना , चोक़लट , चटपटा खाना , वाइन ओर फल । हाँ याद रहे कि व्यायाम साथियों के साथ करना है ।
तीसरा है SEROTONINE जी हाँ ये आपके दिमाग़, आँतोंऔर platelets में पाया जाता है ये आपको सामाजिक एवं व्यावहारिक बनाता हैतथा ख़ुशी प्रदान करता है आपके मूड को प्रभावित करता है अक्सर जो लोग आत्महत्या करते है उनके शरीर मै उस समय इस हॉर्मोन की मात्रा बहुत कमहो जाती है । इसलिए ध्यान रखें कि जब भी कोई साथी चिड़चिड़ा ,उदास,तनावग्रस्त या नकारात्मक विचार या परिवार से दूरी रखे तो उसकी मदद ज़रूर करें । अब ये बढ़ेगा कैसे जी तो मुख्य तो व्यायाम एवं योग तो है ही इसके अलावा चुटकुले सुनना टेलिविज़न पर हस्यात्मक या पसंद के कार्यक्रम देखना खाने मै सब्ज़ियाँ दालें मेवे तथा मशरूम का सेवन मददगार होता है।

अंतिम और बहुत ज़रूरी है OXYTOCINE जी हाँ वैसे तो यह महिलाओं में अधिक होता हे परन्तु पुरुषों को भी इसकी उतनी ही ज़रूरत होती है । इसको love हॉर्मोन भी कहते है ।जी ये भी दिमाग़ मै बनता है ये आपको हमेशा दयावान एवं दानवीर बनता ह कष्टों एवं निराशा से निकालता है आपको हमेशा दुखियों के दुःख दूर करने को प्रेरित करता है। इसकी मात्रा कैसे बढ़ाई जाए या यूँ कहें ऐसा क्या करेंकि ये हमेशा हमारे दिमाग़ में बना रहे तो दोस्तों से मिलना गले लगना दान पुण्य करना , जानवरों से प्रेम तथा प्रियजनो के साथ रहना । खाने मै सूखे मेवे मशरूम अंडे एवंमौसम के फल ये सब ज़रूरी है ।

इतनी बातें मैने बताई पर ये सब होगा कैसे भाई आप शुरू तो करें जब आप व्यायाम सूर्य नमस्कार योग लोगों की मदद और दुःखीअसहाय लोगों , जनवरो की सेवा करोगे तो आपके शरीर मै पोज़िटिव एनर्जी आएगी कुछ दिनो बाद आप इन सब चीज़ों के आदी हो जाओगे और जिस दिन आप ये सब काम नही करोगे तो आप को अच्छानही लगेगा ।आप सोचोगे कुछ रह गया फिर जब दोबारा वही सब करने लगोगे। एक दिन आप अपने आप को दुनिया का सबसे खुश एवं सुखी इंसान समझने लगोगे । तो दोस्तों एक बार शुरू तो करो कुछ दिनो में ही आपको बदलाव नज़रआयेगा और दुनिया को भी ।

अब आज के लिए इतना ही फिर मिलूँगा किसी नई जानकारी के साथ नमस्कार । घर पर रहें सुरक्षित रहें 🙏🙏
मेरी हिंदी में लिखने की आदत नही है कोई त्रुटि हो तो क्षमा करें। धन्यवाद ।

Uttarakhand news Uttarakhand news Uttarakhand news Uttarakhand news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *