वनाग्नि-हाईकोर्ट ने पीसीसीएफ को किया तलब, गांव में आग से मची चीख पुकार, वीडियो देखें

पौड़ी की सितोंसयुं पट्टी के गांव तक पहुंची आग। स्कूल व गौशाला को भारी नुकसान

नैनीताल/पौड़ी/देहरादून।

उत्त्तराखण्ड में आग का कहर जारी है। वनाग्नि की गंभीर दशा को देखते हुए नैनीताल हाईकोर्ट ने स्वतः संज्ञान लेते हुए वन विभाग के आलाधिकारी को बुधवार को वीडियो कॉन्फ़्रेंसिंग के जरिये कोर्ट में उपस्थित होने के निर्देश दिए हैं। कोर्ट ने प्रमुख चीफ वन संरक्षक से वीडियो कॉन्फ़्रेंसिंग के जरिये प्रदेश की वनाग्नि की रोकथाम को लेकर सरकार के उपायों को परखेगी। forest fire uttarakhand 2021

इधर, पौड़ी गढ़वाल की सितोंन्स्यु पट्टी के   तोणख्या  व    मसाण  गांव में लगी आग का दिल दहलाने वाला वीडियो सामने आया है। आग के तांडव को देखते हुए ग्रामीणों
में चीख पुकार मची हुई ।

आग से बर्बादी ही बर्बादी नजर आ रही है। गौशाला में मवेशी की आग में जलकर मौत हो गयी। ग्रामीण महिलाएं व युवक एक बाल्टी से आग की लपटों में घिरे गांव का स्कूल की आग बुझाने की कोशिश करते दिखाई दे रहे हैं। स्कूल में काफी नुकसान पहुंचा ।

इसके अलावा ग्रामीण तोणख्या गाँव के सामने मसाण गांव की गौशाला भी आग में जलकर खाक हो गयी। ग्रामीण मवेशी की जलने से हुई मौत के बारे में बात करते हैं। यह भी कहते हैं कि ग्राम प्रधान को फोन किया लेकिन वो नही आये।forest fire uttarakhand 2021

जंगल की आग से जूझते हुए ग्रामीणों के पास आवश्यक उपकरण भी नही थे। यूँ तो वह विभाग के आंकड़ों के मुताबिक 12 हजार वन कर्मियों को आग बुझाने की ड्यूटी पर लगा रखा है। छुट्टियों पर भी रोक लगा दी गयी है।लेकिन आग की भयावहता कम नहीं हो रही है।forest fire uttarakhand 2021

लपटों से घिरा है और ग्रामीण बक्ति

इसके अलावा, एयरफोर्स के MI-17 हेलीकाप्टर से गढ़वाल व कुमायूँ के जंगलों में लगी आग बुझाने की कोशिश मंगलवार को भी जारी रही।

Uttarakhand forest fire bulletin-6th april 2021

जंगल में लगी आग, pls clik

खतरा मोल ले वन मंत्री हरक ने जंगल की आग झाड़ी से बुझायी, वीडियो देखें

हरिद्वार कुम्भ- उत्त्तराखण्ड पुलिस ने संघ से मांगी मदद, प्रान्त संघ संचालक को लिखी चिठ्ठी

उत्त्तराखण्ड के चार जिलों के जज कोरोना पॉजिटिव

Nalanda
Flower

अपनी प्रतिक्रिया साझा करे

error: Content of this site is protected under copyright !!