#

प्रतिबन्धित खैर की लकड़ी से लदा ट्रक जब्त, वन विभाग में हड़कंप

जीएसटी सचल दल ने नरेन्द्रनगर इलाके से लाई जा रही खैर की लकड़ी से लदा ट्रक पकड़ा

ट्रक में लाखों रुपए मूल्य की लगभग 6.5 टन प्रतिबन्धित खैर की लकड़ी लदी थी

इस मसले पर कर विभाग व वन विभाग आवश्यक कानूनी कार्रवाई करेगा- डॉ अहमद इकबाल, कर आयुक्त

अविकल उत्तराखण्ड

देहरादून। वन तस्करों के हौसले इतने बुलंद हो गए कि वन मंत्री के इलाके में भी लकड़ी की तस्करी करने से बाज नहीं आये। बहरहाल, पकड़े गए। जीएसटी सचल दल ने नरेन्द्रनगर इलाके से लाई जा रही अवैध रूप से लाई जा रही प्रतिबन्धित खैर की लकड़ी से लदा ट्रक जब्त किया। ट्रक में लगभग लाखों रुपए मूल्य की लगभग 6.5 टन खैर की लकड़ी लदी थी। वाहन चालक खैर की लकड़ी से जुड़े कागजात नहीं दिखा पाया। ट्रक का नंबर PB 10 F F 5167 है। कर विभाग व वन विभाग की ओर से दोषियों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की खबर है।

प्रतिबन्धित खैर की लकड़ी नरेंद्र नगर से ऋषिकेश लायी जा रही थी। शुक्रवार की शाम आशारोड़ी के जीएसटी सचल दल ने सात मोड़ के पास खैर की लकड़ी के ट्रक को पकड़ा।

जब्त किए गए ट्रक को आशारोड़ी चेक पोस्ट लाया गया। सूचना मिलने पर फारेस्ट विभाग के कुछ अधिकारी-कर्मचारी भी मौके पर पहुंचे। फारेस्ट के लोगों ने जब खैर की लकड़ी की तस्दीक की तो विभाग में हड़कंप मच गया।ट्रक चालक ने बताया कि वह नरेन्द्रनगर से खैर की लकड़ी भगवानपुर ले जा रहा था।

कर आयुक्त डॉ अहमद इकबाल ने बताया कि सचल दल ने खैर की प्रतिबन्धित लकड़ी पकड़ी है। विभाग कानूनी पहलुओं के अनुसार कार्रवाई करेगा। इस बीच, वन विभाग भी इस मामले में मुकदमा दर्ज करने की तैयारी कर रहा है।

इस मामले में वन विभाग के कुछ अधिकारी व कर्मचारियों पर गाज गिरना तय माना जा रहा है। गौरतलब है कि नरेन्द्रनगर विधानसभा से भाजपा विधायक सुबोध उनियाल ही वन मंत्री का चार्ज संभाले हुए हैं। ‘अविकल उत्तराखण्ड ‘ की वन मंत्री से सम्पर्क साधने की कोशिश सफल नहीं हो पायी।

प्रतिबन्धित खैर की लकड़ी से लदा ट्रक जब्त करने वाले जीएसटी सचल दल में प्रभारी कुलदीप
सिंह, सहायक आयुक्त बी.एस. रावत, राज्य कर अधिकारी
धीरेंद्र कुमार शामिल थे।

Uttarakhand news Uttarakhand news Uttarakhand news Uttarakhand news Uttarakhand news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *