मुख्यमन्त्री त्रिवेंद्र रावत के फिजीशियन डॉक्टर एन एस बिष्ट का सत्याग्रह। विभागीय उत्पीड़न से त्रस्त होकर गांधी अस्पताल में किया सत्याग्रह।

मुख्यमन्त्री त्रिवेंद्र व योगी के साथ डॉक्टर बिष्ट

कोरोना संकट के शुरुआती दिनों में ही डॉक्टर बिष्ट कोरोनेशन अस्पताल में ही रहकर मरीजों की सेवा करने लगे थे। बाद में उन पर भी कोरोना के लक्षण दिखने क्वारंटाइन होना पड़ा था। मुख्यमंत्री के फिजीशियन डॉक्टर बिष्ट के सत्याग्रह की खबर से अफरा तफरी देखी जा रही है।

Uttarakhandnews

2 thoughts on “मुख्यमन्त्री त्रिवेंद्र रावत के फिजीशियन डॉक्टर एन एस बिष्ट का सत्याग्रह। विभागीय उत्पीड़न से त्रस्त होकर गांधी अस्पताल में किया सत्याग्रह।

  1. जैसी फसल बोयी है वैसी ही काटनी पड़ती है। बोया बीज बबूल का तो आम कहां से होय। जय हो…..

Leave a Reply

Your email address will not be published.