#

सेक्स स्कैंडल-एमएलए हॉस्टल में सिपाही से तमंचे के बल पर  पीड़िता के खिलाफ बयान दिलवाए, ऑडियो सुनें

सिपाही हरिओम और पीड़िता का ऑडियो वायरल। सिपाही की पिटाई का मामला उजागर

पीड़िता का पूर्व परिचित सिपाही हरिओम हरिद्वार पुलिस लाइन में तैनात है

हरिद्वार से विधायक जीना का गनर दीपक लाया हरिओम को विधायक निवास

विधायक निवास के फ्लैट 62/63 में हुई सिपाही की पिटाई, जबरन वीडियो बना पुलिस को सौंपा

रुआंसे सिपाही हरिओम ने अपने साथ हुई ज्यादती पीड़िता को बताई

अविकल उत्त्तराखण्ड

देहरादून। सेक्स स्कैंडल में फंसे भाजपा विधायक अपनी दादागिरी से अब एक नए मामले में फंसते नजर आ रहे हैं। यह मामला है पीड़िता के परिचित सिपाही हरिओम को विधायक निवास के फ्लैट 62 व 63 में तमंचा दिखा कर धमकाने का।

और तमंचे के बल पर वीडियो बनाकर पीड़िता के खिलाफ पुलिस में बयान दिलवाने का। पिटाई करने के बाद  फिर विधायक महेश नेगी सिपाही हरिओम को इस मामले की जांच कर रहे सीओ अनुज कुमार के पास ले जाते हैं और बयान दर्ज करवा देते है।

सिपाही हरिओम और पीड़िता के बीच बातचीत का ऑडियो । 

सत्तापक्ष के विधायक की जोर जबरदस्ती से सिपाही हरिओम अभी तक डरा हुआ है। और उसने सारी कहानी पीड़िता को सुना दी। जस मामले में भाजपा विधायक सुरेंद्र सिंह जीना के गनर दीपक का नाम भी सामने आ रहा है।

पीड़िता और सिपाही हरिओम के वायरल हो रहे ऑडियो को सुनेंगे तो पूरी कहानी समझ में आ जायेगी। पीड़िता का पूर्व परिचित सिपाही हरिओम हरिद्वार की पुलिस लाइन में तैनात है। ऑडियो में दोनों के बीच हुई बातचीत में हरिओम कहता है कि कुछ दिन पहले भाजपा विधायक सुरेंद्र सिंह जीना का गनर दीपक हरिद्वार से हरिओम को देहरादून के विधायक निवास में लाता है।

यहां विधायक महेश नेगी अपने कुछ साथियों के साथ हरिओम पर पीड़िता को मनाने का दबाव डालते हैं। जब वह मना करता है तो उसकी खूब पिटाई होती है। फिर उसे पीड़िता के खिलाफ बोलने के लिए बार बार कुछ बातें सिखाई जाती है। फिर हरिओम का छह सात बार वीडियो बनाया जाता है।यह वीडियो देहरादून पुलिस के सीओ को दिया जाता है।

हरिओम यह भी कहता है कि उसे उचित पोस्टिंग देने का भी लालच दिया जाता है।

इस दहशत भरे माहौल के बाद सिपाही हरिओम सारी बातें पीड़िता को बताता है। यह भी कहता है कि विधायक महेश नेगी उसका नुकसान कर सकता है। अपने बहुत डरे होने की बात करता है।

इस ऑडियो की सच्चाई का दावा तो नही किया जा सकता लेकिन पीड़िता और सिपाही के वायरल ऑडियो ने विधायक महेश नेगी की दादागिरी को कठघरे में अवश्य खड़ा कर दिया है।

Uttarakhand news Uttarakhand news Uttarakhand news Uttarakhand news Uttarakhand news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *