श्री राम की शक्ति से पूरा होगा राम मंदिर का निर्माण- सतपाल महाराज

देहरादून में श्रीराम कार सेवक मिलन व सम्मान समारोह

देहरादून। तीस- पैंतीस साल पहले अयोध्या में राम जन्मभूमि मंदिर आंदोलन की शुरुआत करने वाले देहरादून के कार सेवक एक जगह मिले। कार सेवक मिलन कार्यक्रम में उस कठिन दौर को याद किया। पुलिस से बचते -भिड़ते हुए आंदोलन को कैसे गति व शक्ति दी। पुरानी कई कहानियां सुनाई गईं।

रविवार को 98 साल के बुजुर्ग कारसेवक शंभु प्रसाद भी संस्कृति एवं धर्मस्व मंत्री सतपाल महाराज के आवास पर मौजूद थे। कई कारसेवकों ने अपने संस्मरण सुनाए। एक बार फिर राम जन्मभूमि आंदोलन की याद ताजा हो उठी।

इस मौके पर पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने कहा कि अयोध्या में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, सर संघ संचालक मोहन भागवत, योगी जी भव्य राम मंदिर की आधारशिला रख चुके हैं। कार सेवकों के बलिदान व मेहनत के बल पर नया इतिहास लिखा जा रहा है।  उन्होंने कहा कि कारसेवकों ने राम जन्म भूमि आंदोलन के लिए सर्वस्व न्यौछावर किया। उन्होंने कहा कि भारतवर्ष ने राम राज्य की दिशा में कदम बढ़ा दिए हैं।

  सतपाल महाराज ने कहा कि श्रीराम की अगाध शक्ति के कारण ही यह सम्भव हो पाया है। अपने संबोधन में महाराज ने राम के कई गुणों का वर्णन दोहे व चौपाइयों का उदाहरण देकर किया।

उन्होंने कहा कि श्रीराम सारी सम्भावनाओं को लेकर पैदा हुए हैं। राम में मानव से लेकर अध्यात्म तक सारी शक्तियों का पुंज था। श्रीराम का चरित्र निर्विकार, निष्छल, एवं सकारात्मकता से परिपूर्ण रहा है।

कार सेवकों को सम्बोधित करते हुए भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत ने कहा की निश्चित रूप से श्रीराम मन्दिर विश्व में एक इतिहास बनेगा।

विश्व हिन्दू परिषद् के राष्ट्रीय मंत्री रविदेव आनन्द ने  कहा कि सभी कार सेवकों ने श्रीराम जन्म भूमि आन्दोलन में बढ़ चढ कर भाग लिया था जिसके कारण आज यह कार्य सम्भव हो पाया है। पूर्व मंत्री एवं विधायक हरवंश कपूर व नरेश बंसल ने भी  विचार रखे।


कार सेवक मिलन कार्यक्रम में प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों से आये श्रीराम कार सेवकों को कैबिनेट मंत्री श्री सतपाल महाराज एवं पूर्व मंत्री श्रीमती अमृता रावत ने श्रीराम जन्म भूमि का चित्र एवं अंग वस्त्र भेंट कर सम्मानित किया।

इस मौके पर लाखीराम जोशी, नरेश बंसल,  अजय जोशी, राधे श्याम ममगांई, राजेन्द्र पन्त, कैलाश पन्त, प्रवीन जैन, राजकुमार टांक, भास्कर नैथानी,  सुधीर कुमार,  महेन्द्र सिंह नेगी, दिनेश रावत, आदि ने राम मन्दिर आन्दोलन से जुड़े संस्मरण सुनाए।

  श्रीराम कार सेवक मिलन में शशिकान्त गोयल, पुनीत मित्तल, नन्द किशोर,  हरीश काम्बोज,  लक्ष्मण नवानी,  बालेश्वर पाल,  शम्भू प्रसाद भट्,  रोशन लाल थपलियाल,  मूरत राम शर्मा,  विजय कोहली, विनोद शर्मा,  बलवन्त बोहरा,  अभिमन्यु कुमार, तरूण,  हेमन्त थपलियाल,  विजय शर्मा, राकेश कुकरेती,  नन्द किशोर, अजय जोशी,  विवेक शर्मा,  भरत सिंह नेगी,  हेमन्त उपाध्याय,  विपिन राणा,  उदयपाल नेगी,  भगत सिंह रावत आदि अनेक कार सेवकों को सम्मानित किया गया।


कार्यक्रम आयोजन समिति के सदस्य दिगम्बर नेगी ने  सभी कार सेवकों का आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम का सफल संचालन आयोजन समिति के सदस्य  ऋषिराज डबराल ने किया।

Uttarakhandnews

Leave a Reply

Your email address will not be published.