तीन जिलों में जाएंगे सीएम तीरथ, पहाड़ी जिलों में डेथ रेट बढ़ने से माथे पर पड़े बल

शनिवार को सीमांत चमोली जिले के गोपेश्वर, रुद्रप्रयाग व पौड़ी जिले के श्रीनगर में कोविड तैयारियों का जायजा लेंगे। कार्यक्रम जारी। सुबह 9 बजे सबसे पहले गोपेश्वर जाएंगे

अविकल उत्त्तराखण्ड

देहरादून। पर्वतीय इलाकों में कोरोना डेथ व संक्रमण के मामले बढ़ने से चिंतित राज्य सरकार जीरो ग्राउंड पर सच्चाई परखने जा रही है। सीएम तीरथ सिंह रावत शनिवार को तीन पहाड़ी जिलों में जा रहे हैं। सीमांत चमोली जिले के गोपेश्वर, रुद्रप्रयाग व पौड़ी जिले के श्रीनगर में कोविड तैयारियों का जायजा लेंगे।

मौजूदा समय में नौ पर्वतीय जिलों में कुल कोरोना मौतों की 18 प्रतिशत मौत हुई है। (देखिये नीचे news link) कुल मौतों में पहाड़ी जिलों का कुल प्रतिशत11.9 सेबढकर 18.6 प्रतिशत हो गया है। इसके अलावा मैदान की तरह पहाड़ में भी कोरोना को लेकर तैयारियां संतोषजनक नही कही जा सकती। कोरोना के इलाज से जुड़े हर पहलू की दशा और दिशा बहुत ही चिंताजनक बनी हुई है।

हाल ही में, नैनीताल हाईकोर्ट ने राज्य सरकार की कोविड 19 की तैयारियों को लेकर बहुत ही तल्ख टिप्पणी की थी। और व्यवस्था सुधारने के निर्देश दिए थे। यही नहीं, स्वास्थ्य सचिव अमित नेगी की ओर से अदालत में पेश किए शपथ पत्र को अभी तक का सबसे घटिया शपथ पत्र करार देकर हाईकोर्ट ने प्रदेश शासन को आईना भी दिखाया था।

बहरहाल, गोपेश्वर, रुद्रप्रयाग व श्रीनगर में कोविड 19 की तैयारियों को परखने जा रहे सीएम के इस दौरे से ग्राउंड ज़ीरो पर आंशिक सुधार की उम्मीद जताई जा सकती है।

Pls clik

कोरोना डेथ 116- IDPL में फिर बनेगी ऑक्सीजन, श्रीनगर में लगेगा प्लांट

कोरोना कहर के बीच खुले यमुनोत्री धाम के कपाट , पंचमुखी डोली केदार रवाना

Nalanda
amaruttarakhand

अपनी प्रतिक्रिया साझा करे

error: Content of this site is protected under copyright !!