कोरोना से 109 मौत, सीएम का देवप्रयाग दौरा, वाहन पर गिरी चट्टान,देखें वीडियो व फोटो

अंबानी के 5 करोड़ पर जताया आभार

गढ़वाल विवि में 17 लोगों की कोविड टास्क फोर्स बनी

उत्त्तराखण्ड में कोरोना संक्रमण दर 20 प्रतिशत से अधिक

मंत्री सतपाल महाराज ने भेल आक्सीजन प्लांट का निरीक्षण किया

कौडियाला के पास वाहन पर गिरी चट्टान,दो घायल

अविकल उत्त्तराखण्ड

देहरादून/देवप्रयाग। उत्त्तराखण्ड में कोरोना से 109 मौत की खबर है। बुधवार को जारी हेल्थ बुलेटिन में 7749 लोग कोरोना संक्रमित हुए। राज्य में अब तक कुल 4123 मौतें हो चुकी है।

इधर, बुधवार की सुबह मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने आपदा प्रभावित क्षेत्र देवप्रयाग में हुए नुकसान का जायजा लिया।
मुख्यमंत्री लगभग 11 बजे पूर्वाह्न आपदा प्रभावित क्षेत्र पहुंचे। मुख्यमंत्री ने प्रभावित लोगों से मुलाकात की। उन्होंने कहा कि पीड़ितों को हर सम्भव सहायता दी जाएगी।

मुख्यमंत्री ने जिलाधिकारी को प्रभावितों को अनुमन्य सहायता जल्द उपलब्ध कराने के निर्देश दिये।

मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत के साथ कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल, आपदा प्रबंधन मंत्री डॉ. धन सिंह रावत, विधायक विनोद कण्डारी, जिलाधिकारी ईवा श्रीवास्तव व एसएसपी भी मौजूद हैं।

मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने कोरोना के खिलाफ जंग में अनंत अम्बानी एवं रिलायंस फाउंडेशन द्वारा उत्तराखण्ड राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण में 5 करोड़ की राशि का योगदान दिये जाने पर उनका आभार व्यक्त किया है। उन्होंने कहा है कि संघर्ष की इस घड़ी में उनका यह सहयोग बेहद महत्वपूर्ण है, जिससे कोरोना के खिलाफ लड़ाई को और मजबूती मिलेगी।

मंत्री महाराज ने भेल आक्सीजन प्लांट का निरीक्षण किया

हरिद्वार। कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज ने भेल आॅक्सीजन प्लांट का निरीक्षण किया। उनके साथ रानीपुर विधायक आदेश चौहान व झबरेड़ा विधायक देशराज कर्णवाल रहे।

उन्होंने कार्यपालक निदेशक भेल संजय गुलाटी व  जिलाधिकारी सी रविशंकर , सीएमओ एसके झा से कोरोना के उपचार एवं नियंत्रण की तैयारियों की समीक्षा की।
उन्होंने निरीक्षण में आॅक्सीजन प्लांट की क्षमता को बढ़ाये जाने तथा अन्य प्रकार के गैस सिलेंडरों का प्रयोग आक्सीजन सप्लाई में विकल्प के तौर पर किये जाने की सम्भावना पर विचार-विमर्श किया। तकनीकी पहलुओं को ध्यान में रखते हुए किस प्रकार विकल्प तैयार कर जनता को राहत दी जा सकती है इस पर भी भेल अधिकारियों के सुझाव लिये।

गढ़वाल विवि में बनी कोविड टास्क फोर्स


मा. मंत्री ने बताया कि भेल की फिलिंग क्षमता को दस हजार तक बढ़ाये जाने तथा इसके लिए नया आॅक्सीजन प्लांट स्थापित किये जाने के सम्बंध में केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर जी को पत्र लिख कर अनुरोध किया गया है।
उन्होंने भेल द्वारा इस संकट के समय में कोरोना रोगियों को प्राण वायु की आपूर्ति किये जाने के कार्य की प्रशंसा की। कहा कि प्लांट में काम कर रहे प्रत्येक कार्मिक की सेवा सराहनीय है। सभी कार्मिक कोरोना के संकट के इस समय में अपनी नौकरी के रूप् में एक प्रकार से समाज सेवा कर रहे हैं।


महाराज ने कहा कि जिले की आवश्यकता के अनुसार आपूर्ति कम नहीं होने दी जायेगी। आॅक्सीजन उत्पादन क्षमता को शीघ्र ही बढाने का प्रयास किया जायेगा।
उन्होंने नागरिकों से भी अपील करते हुए कहा कि सभी कोरोनो से बचाव के नियम अपनाये, गाइल लाइन का पालन करें। थोड़ी भी परेशानी होने पर सतर्कता बरतें।
इस अवसर पर आॅक्सीजन प्लांट के जीएम वीके रायजादा, जीएम एचआर श्री आर.आर शर्मा भी उपस्थित रहे।

कौडियाला के पास वाहन पर गिरी चट्टान,दो घायल

Pls clik

उत्त्तराखण्ड को मिली ऑक्सीजन जिलों को रवाना,विदेश से आएगी वैक्सीन

ब्रेकिंग आपदा- देवप्रयाग में बादल फटा, कई भवन धराशायी, देखें वीडियो

कोरोना पड़ताल- “कंट्रोल सैंपल कलेक्शन व जांच ” से घटी संक्रमण की दर? देखें चार्ट

Nalanda
amaruttarakhand

अपनी प्रतिक्रिया साझा करे

error: Content of this site is protected under copyright !!