zydex

महिला उत्तरजन ने रिसॉर्ट संस्कृति को पहाड़ी राज्य के लिए घातक बताया

अविकल उत्तराखंड

देहरादून। अंकिता भंडारी हत्याकांड के विरोध में प्रदेश भर में श्रद्धांजलि, प्रदर्शन व बैठकों का सिलसिला जारी है। महिला उत्तरजन ये अंकिता भंडारी को श्रद्धांजलि देते हुए हत्यारों को सख्त सजा देने की मांग की।वक्ताओं ने कहा कि भाजपा नेता के पुत्र से जुड़े होने की वजह से यह मामला दबाने का प्रयास किया गया। इसमें कुछ जनप्रतिनिधियों की भूमिका को लेकर जनता में गहरा आक्रोश है।

बैठक में उत्तराखण्ड में बन रहे अवैध रिसॉर्ट संस्कृति पर भी चिंता जतायी गयी। और इन रिसॉर्ट में अपराधी फल फूल रहे हैं। और पहाड़ के सांस्कृतिक मूल्यों से इनका कोई लेना देना नहीं है।यह सफेदपोश प्रदेश की बेटियों को सॉफ्ट टारगेट बना रहे है।

महिला उत्तरजन ने इस मुद्दे पर अंकिता भंडारी के परिजनों को आर्थिक सहायता देने की भी सरकार से मांग की। बैठक में दो मिनट का मौन रखा गया।

बैठक में वन्दना दौडियाल,विनोद कुमार, किरन, मन्जू सक्सेना लोकेश नवानी, नैड़ाई, शान्ति बंगारी क सरोजनी नौटियाल, नरेश चन्द्र कुलाश्री, सुशीला राजपूत, यूएस रावत, जयदीप सिंह रावत,विमला कठैत, मंजू रावत, यशपाल सिंह, बीना कण्डारी, मीना थपलियान, श्रीमती कमला डिमरी, रीना पटवाल, मुकेश इष्टवाल, राजेन्द्र गुसाई,सुलोचना ईष्टवाल, संगीता जोशी, अनु पन्त, शशांक शुक्ला, वेद विलास व उत्तरा पन्त मौजूद रहे।

Pls clik-अंकिता भंडारी का अंतिम संस्कार

अलविदा! नम आंखों से दी पहाड़ की बेटी अंकिता भंडारी को अंतिम विदाई

Uttarakhand news Uttarakhand news Uttarakhand news Uttarakhand news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *