zydex

अलविदा! नम आंखों से दी पहाड़ की बेटी अंकिता भंडारी को अंतिम विदाई

सीएम धामी के फोन के बाद परिजन तैयार हुए अंतिम संस्कार को। श्रीनगर में अलकनन्दा किनारे दी गयी मुखाग्नि

अविकल उत्तराखंड

देहरादून। भारी गहमागहमी व गमगीन माहौल में श्रीनगर में अलकनन्दा किनारे आईटीआई घाट पर अंकिता भंडारी पंचतत्व में विलीन हो गयी। इस दौरान सैकड़ों लोगों ने अंकिता भंडारी को नम आंखों से अंतिम विदाई दी।

इस दौरान भारी संख्या में पुलिस बल मौजूद रहा। जनता में भाजपा जनप्रतिनिधियों को लेकर तीखी प्रतिक्रिया देखी गयी। अंकिता के परिजनों ने फाइनल पोस्टमार्टम रिपोर्ट मिलने तक अंतिम संस्कार करने से मना कर दिया था। रविवार की सुबह से ही अंकिता के अंतिम संस्कार को लेकर जिला प्रशासन भी परिजनों को मनाता रहा। एक ऊहापोह की स्थिति बनी रही।

इसके बाद सीएम धामी ने अंकिता के परिजनों से भी फोन पर बात की और आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने का आश्वासन दिया। सीएम के फोन के बाद व शासन प्रशासन के मनाने के बाद अंकिता के परिजन अंतिम संस्कार के लिए तैयार हुए।

अंकिता भंडारी


अंकिता के पार्थिव शरीर को 12 घंटे से अधिक प्रदर्शन के बाद दाह संस्कार की सहमति बनी और फिर आंसुओं के सैलाब के बीच अंकिता के पार्थिव शरीर को अलकनन्दा के घाट पर मुखाग्नि दी गयी।

Pls clik

सीएम के आदेश से चला बुलडोजर डीएम ने कहा, मैंने आदेश नहीं दिया

Uttarakhand news Uttarakhand news Uttarakhand news Uttarakhand news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *