zydex

बैकडोर भर्ती- हटाये गए तदर्थ विस कर्मियों को जारी हुए सेवा समाप्ति के पत्र

एक्सपर्ट कमेटी की रिपोर्ट के बाद स्पीकर ऋतु खंडूड़ी ने 228 तदर्थ व 22 उपनलकर्मी हटाये थे

स्पीकर ने कहा- नये विधानसभा सचिव की तलाश जल्द पूरी हो जाएगी

अविकल उत्तराखंड

देहरादून।स्पीकर ऋतु खंडूड़ी के फैसले के बाद विधानसभा में तैनात तदर्थ 228 कर्मियों की नियुक्ति को तदर्थ प्रभाव से समाप्त करने के आदेश जारी होने लगे हैं। मंगलवार तक 140 कर्मियों को नोटिस थमाया जा चुका है। विस स्पीकर ऋतु खंडूड़ी ने कहा कि जांच समिति ने इन नियुक्तियों को नियम विरुद्ध माना है।

विधानसभा में उप सचिव नरेंद्र रावत की ओर से जारी आदेश में साफ कहा गया है कि आपको काम चलाऊ व्यवस्था के अन्तर्गत तदर्थ रूप से नियुक्त किया गया था। …. के पद पर की गयी तदर्थ नियुक्ति को जनहित में तत्काल प्रभाव से समाप्त किया जाता है। uttarakhand assembly, service terminated letter issued

सेवा सम्बन्धी समाप्ति के आदेश मिलने के बाद अब 2016 के बाद से नियुक्त तदर्थ कर्मी अब हाईकोर्ट व सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाने जा रहे हैं। court

गौरतलब है कि विधानसभा में बैकडोर भर्ती का मसला जोर पकड़ने के बाद स्पीकर ऋतु खंडूड़ी की ओर से गठित एक्सपर्ट कमेटी की रिपोर्ट के बाद 228 तदर्थ व 22 उपनल कर्मियों की सेवाएं समाप्त कर दी गयी थी।

इन कर्मियों को पूर्व स्पीकर गोविन्द कुंजवाल व प्रेम चंद अग्रवाल के समय नियुक्ति दी गयी थी। स्पीकर ने विस सचिव मुकेश सिंघल को भी निलम्बित कर दिया था।

adhoc appointment in assembly from 2016,service terminated letter issued adhoc employees

कार्यालय आदेश

….को विधान सभा सचिवालय में नियुक्ति आदेश संख्या: 4318(1)/वि०स०/389/ अधि0 /2016 दिनांक 19.12.2016 द्वारा हाउस कीपिंग सहायक के पद पर काम चलाऊ व्यवस्था के अन्तर्गत तदर्थ रूप से नियुक्त किया गया था।…. हाउस कीपिंग सहायक के पद पर की गयी तदर्थ नियुक्ति को जनहित में तत्काल प्रभाव से समाप्त किया जाता है।

अध्यक्ष, विधान सभा की आज्ञा से उनकी ओर से (नरेन्द्र सिंह रावत ) उपसचिव

Pls clik- 2016 के बाद विस में तदर्थ भर्तियां निरस्त

Recruitment scam- विधानसभा में 2016 के बाद तदर्थ नियुक्ति रद्द,विस सचिव निलम्बित

Assembly recruitment scam- धामी ने स्पीकर के फैसले को सराहा, देखें स्पीकर का मूल बयान

Recruitment scam- स्पीकर ने भी देखा कर्मियों का गुस्सा और आंसुओं का सैलाब

Uttarakhand news Uttarakhand news Uttarakhand news Uttarakhand news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *