नये सूचना आयुक्त विपिन चन्द्र ने कोटद्वार से किया था यूपी बोर्ड टॉप

छात्र जीवन से जुड़ी बातों को याद किया। कोटद्वार इंटर कालेज के छात्र विपिन ने यूपी बोर्ड में किया था टॉप।

1987 बैच के IRS मौजूदा मुख्य आयकर आयुक्त विपिन चंद्र घिल्डियाल को राज्य सूचना आयोग में बनाया गया कमिश्नर

अविकल उत्त्तराखण्ड

देहरादून। नये सूचना आयुक्त विपिन चंद्र घिल्डियाल का कोटद्वार से गहरा नाता रहा है। मौजूदा समय में देहरादून में मुख्य आयकर आयुक्त के पद पर आसीन विपिन चंद्र का कहना है कि नयी जिम्मेदारी को बेहद निष्ठा व ईमानदारी से निभाएंगे।

मौजूदा मुख्य आयकर आयुक्त विपिन चंद्र को उत्त्तराखण्ड सूचना आयोग में आयुक्त बनाया गया है

कोटद्वार इंटर कालेज में उत्तर प्रदेश बोर्ड की 10 वीं व 12वीं परीक्षा में क्रमशः दसवीं व छठी पोजीशन हासिल कर कीर्तिमान बनाया था। यही नहीं विपिन चंद्र घिल्डियाल संपूर्णानंद वाद विवाद प्रतियोगिता जीतने वाली कोटद्वार इंटर कालेज की टीम में भी शामिल थे। उन्होंने कहा कि यह प्रतिष्ठित वाद विवाद प्रतियोगिता नरेंद्र नगर में हुई थी। मेधावी विपिन चन्द्र 1987 में IRS में चुन लिए गए। कई अहम जिम्मेदारी संभाल चुके विपिन चंद्र का मुख्य आयकर आयुक्त के पद से जून में रिटायर होना है।

उन्होंने कहा कि विभागीय औपचारिकताएं पूरी करने के बाद वे सूचना आयुक्त की जिम्मेदारी संभाल लेंगे।

उन्होंने विशेष बातचीत में कहा कि सूचना के जन अधिकार के जरिये सिस्टम की कई खामियों को दूर किया जा सकता है। साथ ही रुकी विकास योजनाओं में भी आरटीआई के जरिये तेजी लाई जा सकती है। इस मौके पर उन्होंने कहा कि अपनी सफलता के पीछे शिक्षकों के मार्गदर्शन को अहम मानते हैं। इस मौके पर नये सूचना आयुक्त विपिन चंद्र ने अपने शिक्षकों व सहपाठियों को याद किया।

सूचना आयुक्त विपिन चंद्र ने गढ़वाल विवि से enviornment science में पीएचडी करने के अलावा गढ़वाल हिमालय के प्राकृतिक संसाधन विषय पर पुस्तक भी लिखी है। इसके अलावा LLB की डिग्री भी ली। कोटद्वार से इंटर करने के बाद इलाहाबाद विवि से उच्च शिक्षा ग्रहण की।

मुख्य सूचना आयुक्त अनिल चंद्र पुनेठा

आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्य सचिव अनिल चंद्र पुनेठा मूलतः पिथौरागढ़ के निवासी है। पूर्व मुख्य सचिव धाराप्रवाह तेलुगु भाषा बोलते हैं। लोहाघाट में जन्मे अनिल चन्द्र पुनेठा ने बीए, एलएलबी दिल्ली विवि से किया। ग्रामीण विकास में एमए किया। उन्होंने इंग्लैंड की एंग्लिया विवि से भी पढ़ाई की। आंध्र प्रदेश सरकार ने उन्हें 1993 से 1996 तक लगातार तीन साल बेस्ट कलेक्टर का अवार्ड दिया। कई महत्वपूर्ण महकमे में बेहतर काम करते हुए भी कई पुरस्कार हासिल किए।

वे जून 2019 में आंध्र प्रदेश के मुख्य सचिव पद से रिटायर हुए। 1984 बैच के आईएएस अनिल चंद्र पुनेठा को 2019 के लोकसभा चुनाव के दौरान केंद्रीय निर्वाचन आयोग के निर्देश नहीं मानने पर रिटायरमेंट से 1 महीने पहले ही मुख्य सचिव की कुर्सी छोड़नी पड़ी थी।

2019 को केंद्रीय निर्वाचन आयोग ने आंध्र प्रदेश के DG intelligence A B वेंकटेश्वर के तबादले के निर्देश दिए थे। तत्कालीन मुख्य सचिव पुनेठा ने आदेश मानने से इनकार कर दिया था। नतीजतन एल वी सुब्रह्मण्यम को नया मुख्य सचिव बनाया गया। इस प्रकरण पर पुनेठा ने आंध्र प्रदेश हाईकोर्ट में रिट भी दायर की। लेकिन वो खारिज कर दी गयी।

Pls clik

मुख्य सूचना आयुक्त व दो आयुक्त की नियुक्ति

Uttarakhandnews Uttarakhandnews

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content of this site is protected under copyright !!