कोरोना में योग -आयुर्वेद सहायक, संक्रमण पर मनोबल बनाये रखें-राज्यपाल

राज्यपाल बेबी रानी मौर्य ने क्वॉरंटीन अवधि पूरी कर  राजभवन स्थित अपने कार्यालय में बैठना शुरू किया

राज्यपाल संक्रमित होने पर एम्स में हुई थी भर्ती

अविकल उत्त्तराखण्ड

देहरादून।

राज्यपाल श्रीमती मौर्य ने बताया कि कोरोना संक्रमण से स्वस्थ होने के लिए योग और आयुर्वेद अत्यंत सहायक सिद्ध होता है। उन्होंने नियमित रूप से आयुष प्रोटोकॉल का पालन किया। राज्यपाल ने कहा कि आयुष प्रोटोकॉल के अनुरूप उन्होंने भोजन एवं खान-पान अपनाया तथा आयुष काढ़ा का सेवन किया।

Governor uttarakhand
कोरोना संक्रमण से ठीक होने के बाद राज्यपाल बेबी रानी मौर्य ने सोमवार से अपने कार्यालय में आवश्यक कार्य करती हुईं।

राज्यपाल बेबी रानी मौर्य ने सोमवार को अपनी क्वॉरंटीन अवधि पूरी कर  राजभवन स्थित अपने कार्यालय में बैठना शुरू कर दिया है।

राज्यपाल ने उन सभी लोगों का आभार व्यक्त किया है, जिन्होंने उनके शीघ्र स्वास्थ्य लाभ हेतु शुभ कामना एवं पूजा-अर्चना की। राज्यपाल श्रीमती मौर्य ने प्रदेशवासियों से अपील की है कि सभी लोग कोविड-19 से बचाव हेतु सरकारी दिशा निर्देशों का पूर्णतः पालन करें, सोशल डिस्टेसिंग का ध्यान रखे, मास्क पहने तथा व्यक्तिगत स्वच्छता का ध्यान रखे।

कोरोना के लक्षण होने पर तत्काल चिकित्सकीय परामर्श ले और टेस्ट करवाएं। उन्होंने कहा है कि लक्षणों से घबराएं नही और न ही लक्षणों को छुपाये। संक्रमण होने की स्थिति में अपना मनोबल बनाये रखे और चिकित्सकों की सलाह का पालन करें।

………….0………….

Uttarakhandnews

Leave a Reply

Your email address will not be published.