zydex

अंकिता हत्याकांड-उत्तराखंड बन्द से भड़की न्याय की मशाल, व्यापक जन समर्थन

प्रदेश में कैंडल मार्च व मशाल जुलूस का सिलसिला जारी. लखनऊ में उठी अंकिता के समर्थन में आवाज.आरोपियों की आज रिमांड खत्म.SGRR में गांधी-शास्त्री जयंती पर कई प्रतियोगिताएँ हुईं

अविकल उत्तराखंड

देहरादून। उत्तराखंड में दो अक्टूबर को विशेष गहमागहमी देखी गयी। गांधी-शास्त्री जयंती के अलावा दो अक्टूबर के मुजफ्फरनगर कांड की बरसी पर राज्य आन्दोलन के शहीदों को याद किया गया। आज के दिन अंकिता भण्डारी हत्याकांड में न्याय व सीबीआई की मांग को लेकर प्रदेश बंद का आह्वान किया गया था। प्रदेश के पहाड़ी जिलों से लेकर मैदान तक स्वतः स्फूर्त बाजार बंद रहे। Ankita murder case

हालांकि, कुछ जगह दोपहर बाद बाजार खुल गए। प्रदेश के पर्वतीय जिलों में बंद का खास असर देखा गया। उक्रांद व दर्जनों सामाजिक संगठन से जुड़े लोगों ने आज प्रदर्शन किया।

दूसरी ओर, अंकिता हत्याकांड की जांच कर रही एसआईटी टीम ने तीनों आरोपी पुलकित आर्य, सौरभ व अंकित से पूछताछ की। रिमांड का आज आखिरी दिन था। आरोपियों से अहम सुराग मिलने की बात सामने आ रही है लेकिन वीआईपी गेस्ट की पहचान पर अभी भी पर्दा पड़ा हुआ है। एसआईटी प्रभारी पी रेणुका देवी का कहना है की पूछताछ में नये सुराग हाथ लगे हैं।

तीन दिन की रिमांड आज खत्म हो रही है। उधर, पुलकित आर्य के वंन्तरा रिसॉर्ट पर बुलडोजर चलाने के मामले की गुत्थी उलझती जा रही है। इस बीच, यमकेश्वर से भाजपा विधायक रेणु बिष्ट के लीज पर दिए गए रिसॉर्ट को लेकर भी नयी कहानी सामने आ रही है।

विभिन्न सामाजिक संगठन व विपक्षी दल सड़कों पर उतरे हुए हैं। प्रवासी उत्तराखंडियों ने दिल्ली, लखनऊ आदि शहरों में भी अंकिता को न्याय दिलाने के लिए आवाज बुलंद करनी शुरू कर दी है।

श्री गुरु राम राय विश्वविद्यालय में 2 अक्टूबर को विभिन्न जन जागरण कार्यक्रमों का आयोजन

उत्तराखंड में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री जी की जयंती पर विशेष स्वच्छता एवं जन जागरण अभियान चलाने के सरकारी आदेश के तहत श्री गुरु राम राय विश्वविद्यालय में संगीत संध्या के साथ ही स्वच्छता अभियान रैली निबंध और स्वच्छता पर आधारित पोस्टर प्रतियोगिता का आयोजन किया गया।

कार्यक्रम का शुभारंभ श्री गुरु राम राय विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ प्रोफेसर उदय सिंह रावत ने किया।

उन्होंने कहा कि दो अक्टूबर का पूरे देश के लिए बहुत महत्व है क्योंकि इस दिन अहिंसा के पुजारी राष्ट्रपिता महात्मा गांधी और धरती के लाल बहादुर शास्त्री जी की पावन जयंती है। इन दोनों ही महान विभूतियों ने राष्ट्र की एकता अखंडता और गरीब से गरीब वर्ग तक समानता पहुंचाने के उद्देश्य से कार्य किया ।

विश्वविद्यालय की ओर से आयोजित की गई निबंध प्रतियोगिता के विजेता छात्रों में प्रथम स्थान प्रगेश पांडेए रितु गुप्ता द्वितीय स्थान आयुष सिंह और तृतीय स्थान पर अश्विनी नेगी और वैष्णवी धौंडियाल रहे।


पोस्टर प्रतियोगिता में सीमा गुप्ता और रूपा पाल को संयुक्त रूप से प्रथम पुरस्कार अनन्या गोयल को द्वितीय पुरस्कार स्नेहाए बुशरा सलीम को संयुक्त रूप से तृतीय पुरस्कार वही सांत्वना पुरस्कार अलीशा मलिक को दिया गयाद्।


प्रतियोगिता के निर्णायक मंडल में भूगोल विभाग की विभागाध्यक्ष डॉ गीता रावतए राजनीतिक विभाग की विभागाध्यक्ष डॉ प्रीति तिवारी एवं गृह विज्ञान विभाग की विभागाध्यक्ष डॉ मधु शर्मा के साथ ही डॉक्टर नरेंद्र सिंह नेगी रहे।


कार्यक्रम के मुख्य आयोजक विश्वविद्यालय के रजिस्ट्रार डॉ प्रोफेसर दीपक साहनी, डीन छात्र कल्याण डॉ कंचन जोशीए डॉ दीपक सोमए डॉ खिलेंद्र रहे । इस अवसर पर डॉ आशा बाला और पत्रकारिता विभाग के छात्रों ने फोटोग्राफी में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई । कार्यक्रम में श्री गुरु राम राय विश्वविद्यालय देहरादून के सभी डीन और फैकल्टी के सदस्य उपस्थित रहे।

लखनऊ में उत्तराखंड की बेटी अंकिता भंडारी को दी गई श्रद्धांजलि

लखनऊ, पूरे देश में उत्तराखंड की बेटी अंकिता हत्याकांड के जबरदस्त उबाल के बीच लखनऊ, वृंदावन योजना में स्थित ज्ञान सरोवर विद्यालय में “अखिल भारतीय उत्तराखंड महासभा(रजि.) भारत” एवं “सनातन महापरिषद भारत” गढ़वाली आपसी भाई समिति द्वारा दिवंगत अंकिता के चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित की गई ।
इस अवसर पर सनातन महापरिषद – भारत के अध्यक्ष एवं अखिल भारतीय उत्तराखंड महासभा(रजि.)भारत के पूर्व अध्यक्ष भवान सिंह रावत ने कहा कि उत्तराखंड की सरकार सुनिश्चित करेगी कि दोषियों को कठोरतम सजा मिले।

धन सिंह मेहता ने कहा अंकिता केस की जाँच सीबीआई से की जाय, हेमंत गर्डिया ने कहा कि तरह के जगन्य अपराध पूरा उत्तराखंड ही नही पूरा देश शर्मसार हैं।


अशोक असवाल ने कहा उत्तराखंड सरकार से उम्मीद जतायी कि इस मामले में अंकिता के परिवार वालों को जल्दी से जल्दी न्याय मिले।
श्रद्धांजलि सभा में अखिल भारतीय उत्तराखंड महासभा (रजि .) भारत, सनातन महापरिषद भारत, देवभूमि जन सरोकार समिति के कई पदाधिकारी एवं सदस्य मौजूद थे। जिसमें साहित्य कार धनसिंह मेहता अंजान, हेमंत सिंह गडिया, डाक्टर बी एस नेगी, सी.एम पांडे , दिनेश तिवारी, प्रेम सिंह बिष्ट,आर .पी जुयाल ,बलवंत, दिलीप सिंह, बांणगी, प्रताप सिंह,डी.एस नेगी, गोपाल सिंह, जगदीश बुटोला ,गंगा सिंह नेगी, राकेश रमेला, धर्म वीर रावत, सी एम सिंह, महावीर खतर्वाल पूरन सिंह बिष्ट सीपी उपाध्याय धन सिंह रावत, ललित बिष्ट, मोती राम रुधिर टी एस राणा, विनोद रावत, अधिराज सिंह, महिपाल पावर, दिनेश गुसाई, बंशी राम तेज सिंह आदि कई गणमान्य व्यक्ति मौजूद थे । अशोक असवाल (मीडिया प्रभारी) अखिल भारतीय उत्तराखंड महासभा (रजि.) भारत मोबाइल 9532967147

उत्तराखंड की बेटी अंकिता के लिए इंसाफ व महिलाओं की सुरक्षा के लिए रूप नगर की महिला सदस्यों ने कैंडल मार्च निकाला

Uttarakhand news Uttarakhand news Uttarakhand news Uttarakhand news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *