इधर, राजाजी में रानी को मिला राजा का साथ. उधर कार की टक्कर से बाघ की मौत

अविकल उत्त्तराखण्ड


देहरादून। प्रदेश में वन्य प्राणियों से जुड़ी दो बड़ी दुखद-सुखद घटनाएं सामने आयी। पहली घटना बुधवार की रात घटी। जब कुमायूँ में इनोवा ने सड़क पार कर रहे बाघ को टक्कर मार दी। बाघ ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। एक अन्य घटना में राजा जी पार्क में मादा बाघ को नर बाघ का साथ मिला। पार्क में बाघों के जोड़ा होने से इनके कुनबे बढ़ने के आसार हो गए हैं।

दूसरी ओर, शनिवार को वन एवं पर्यावरण मंत्री डॉ हरक सिंह रावत ने कॉर्बेट टाइगर रिज़र्व से लाये गए मेल टाइगर को बजे राजाजी नेशनल पार्क मोतीचूर क्षेत्र में रिलीज किया। पूर्व में भी एक फीमेल टाइग्रेस को राजाजी में छोड़ा गया था। टाइगर की संख्या बढ़ने से इस क्षेत्र में पर्यटन के साथ साथ रोजगार को भी बड़वा मिलेगा। राजाजी पार्क में हाथियों के साथ साथ अब टाइगर के भी दर्शन होंगे।

जंगल का राजा

इससे पूर्व, बुधवार देर रात भाखड़ा पुल से 300 मीटर दूर कालाढूंगी की तरफ एक इनोवा की टक्कर से बाघ की मौत के मामले में वाहन चालक के खिलाफ मुकदमा दर्ज़ किया गया है

इधर, शनिवार को राजाजी नेशनल पार्क में टाइगर को छोड़े जाने से इनकी संख्या में वृद्धि होगी। प्रदेश सरकार द्वारा इस प्रकार के किया जा रहा ये प्रयास वन्यजीव संरक्षण एवं संवर्धन की दिशा में मील का पत्थर साबित होंगे।

Uttarakhandnews Uttarakhandnews Uttarakhandnews

अपनी प्रतिक्रिया साझा करे