#

उत्त्तराखण्ड में विद्युत वितरण के निजीकरण का इरादा नहीं-राधिका

उत्तरांचल पावर इंजीनियर्स एसोसिएशन का 20वां वार्षिक महाधिवेशन 


अभियंताओं ने उठाई तीनों ऊर्जा निगमों के एकीकरण और पुरानी पेंशन व्यवस्था की मांग
अधिवेशन में पूर्ववर्ती 9, 14, 19 वर्षों के समयबद्ध वेतनमान को तुरंत लागू करने की मांग भी उठी

अविकल उत्त्तराखण्ड

देहरादून।  ऊर्जा सचिव राधिका झा ने वर्चुअल माध्यम से पावर इंजीनियर्स एसोसिएशन के
अधिवेशन को संबोधित करते हुए कहा कि उत्तराखंड के तीनों निगमों के अधिकारी व कर्मचारी पूरे मनोयोग से कार्य कर रहे हैं, इसलिए वर्तमान में विद्युत वितरण के निजीकरण की कोई मंशा नहीं है। उन्होंने कर्मचारियों की पुरानी एसीपी व्यवस्था लागू करने सहित कई अन्य मांगों पर शीघ्र सकारात्मक कार्रवाई का भरोसा दिया।

ऊर्जा सचिव राधिका झा

उत्तरांचल पावर इंजीनियर्स एसोसिएशन का 20वां वार्षिक महाधिवेशन शनिवार को इंस्टीट्यूसन आफ इंजीनियर्स के प्रांगण में संपन्न हुआ। अधिवेशन में सचिव ऊर्जा राधिका झा बतौर मुख्य अतिथि एवं प्रबंध निदेशक डा. नीरज खैरवाल अति विशिष्ठ अतिथि तथा ऊर्जा निगमों के सभी निदेशकों ने विशिष्ठ अतिथि के रुप में शिरकत की।

अधिवेशन को संबोधित करते हुए शैलेंद्र दुबे ने देशव्यापी विद्युत वितरण क्षेत्र के निजीकरण के लिए प्रस्तावित इलेक्ट्रीसिटी अमेंडमेंट बिल 2020 एवं स्टेंडर्ड बीडिंग डाक्यूमेंट के प्रस्ताव का विरोध करते हुए ऊर्जा के अभियंताओं एवं कर्मचारियों से आंदोलन का आह्वान किया। साथ ही राज्य के तीनों ऊर्जा निगमों के एकीकरण, समस्त कर्मचारियों के लिए पुरानी पेशन व्यवस्था, नियमिति पदों पर नियमित भर्ती, संविदा कर्मियों के नियमितिकरण एवं ऊर्जा निगमों के लिए पूर्ववर्ती 9, 14, 19 वर्षों के समयबद्ध वेतनमान को तुरंत लागू करने की मांग उठाई।
प्रबंध निदेशक डा. नीरज खैरवाल और प्रबंध निदेशक यूजेवीएनएल संदीप सिंघल ने भी आनलाइन अधिवेशन को संबोधित किया।
अधिवेशन को उत्तर प्रदेश राज्य विद्युत परिषद अभियंता के महासचिव प्रभात सिंह ने भी संबोधित किया। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश के अभियंता एक मंच पर आकर परस्पर सहयोग करते हुए अपनी मांगों के लिए संघर्ष करेंगे।

एसोसिएशन की नई कार्यकारिणी गठित, दुबे अध्यक्ष और रंजन महासचिव चुने गए

अधिवेशन में एसोसिएशन की नई कार्यकारिणी का गठन किया गया। नई कार्यकारिणी में इं. कार्तिकेय दुबे अध्यक्ष, इं. एनएस बिष्ट वरिष्ठ उपाध्यक्ष, इं. अमित रंजन महासचिव, इं. अनिल मिश्रा उपाध्यक्ष उपाकालि., इं. सौरभ पांडे उपाध्यक्ष येजेवीएनएल, इं. आशुतोष कटारिया उपाध्यक्ष पिटकुल, इं. एनएस टोलिया उपाध्यक्ष कुमाऊं, इं. आशुतोष तिवारी संयुक्त सचिव गढ़वाल, इं. भारत भूषण गैरोला संगठन सचिव गढ़वाल, इं. गिरिराज सिंह सहायक सचिव गढ़वाल, इं. सौरभ जोशी संयुक्त सचिव कुमाऊं, इं. डीएस बिष्ट संगठन सचिव कुमाऊं, इं. तनवीर अहमद सहायक सचिव कुमाऊं, इं. जतिन सैनी कोषाध्यक्ष, इं. अर्चित भट्ट प्रचार सचिव और इं. शैली राठी संप्रेक्षक चुने गए। मुख्य चुनाव अधिकारी इं. नीरज कुमार ने नवनिर्वाचित पदाधिकारियों को शपथ दिलाई।
निवर्तमान अध्यक्ष इं. वाईएस तोमर और महासचिव मुकेश कुमार ने अधिवेशन में पहुंचे समस्त अतिथियों और अभियंताओं का आभार व्यक्त किया।

Uttarakhand news Uttarakhand news Uttarakhand news Uttarakhand news Uttarakhand news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *