नयार घाटी में पैराग्लाइडिंग का प्रशिक्षण केन्द्र खोला जायेगा-त्रिवेंद्र.देखें एयर बैलून में सीएम व तीरथ रावत

बिलखेत,सतपुली में किया गया राष्ट्रीय पैराग्लाइडिंग एक्यूरेसी प्रतियोगिता का शुभारम्भ

नयार घाटी एडवेंचर फेस्टिवल का आयोजन हर साल किया जायेगा-मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने किया प्रथम नयार घाटी एडवेंचर फेस्टिवल का उदघाटन

मुख्यमंत्री समेत सभी जनप्रतिनिधियों ने डीएम धीराज गर्ब्याल की कोशिशों को सराहा

शुभांग रतूड़ी को दी भावभीनी श्रद्धांजलि

लगभग 27 करोड़ रूपये की कल्जीखाल विकासखण्ड की पेयजल योजना का लोकार्पण

अविकल उत्त्तराखण्ड

बिलखेत, सतपुली। पौड़ी जिले की नयार घाटी में पर्यटन के सूखे को खत्म करने की शुरुआत हो गयी। बिलखेत, सतपुली के मैदान में गुरुवार को विशेष हलचल दिखी। स्थानीय महिलाओं व बच्चों की मौजूदगी उत्साह बढ़ाने वाली रही। सीएम समेत सभी वीवीआईपी ने जिलाधिकारी धीराज गर्ब्याल को फुल मार्क्स देते हुए इस सफल आयोजन की बधाई दी। सीएम ने पूरा संबोधन गढ़वाली में किया।

सीएम त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने बिलखेत, पौड़ी में प्रथम नयार घाटी एडवेंचर फेस्टिवल का उद्घाटन किया। सीएम ने राष्ट्रीय पैराग्लाइडिंग एक्यूरेसी प्रतियोगिता का शुभारम्भ किया।

मुख्यमंत्री ने घोषणा की कि नयार घाटी में पैराग्लाइडिंग का प्रशिक्षण केन्द्र खोला जायेगा। इसके लिए उन्होंने जिलाधिकारी पौड़ी को जमीन ढ़ूढने के निर्देश दिये। नयार घाटी एडवेंचर फेस्टिवल का आयोजन हर साल किया जायेगा।


बिलखेत में स्कूल का सौन्दर्यीकरण किया जायेगा।
द्वारीखाल में खेल के मैदान का समतलीकरण किया जायेगा।



मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने कहा कि 19 से 22 नवम्बर तक इस फेस्टिवल में अनेक कार्यक्रम आयोजित किये जा रहे हैं। जिसमें पैराग्लाइंडिंग, 170 किमी की माउंटेन बाइकिंग ट्रेल रनिंग स्पर्धा एवं एंग्लिंग प्रतियोगिता का आयोजन किया जा रहा है। उन्होंने अनेक राज्यों से आये प्रतियोगियों का देवभूमि उत्तराखण्ड में स्वागत किया। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि उत्तराखण्ड को प्रकृति ने सब कुछ दिया है। आज आवश्यकता है तो इन प्राकृतिक सम्पदाओं का सही तरीके से उपयोग हो।

महिलाओं की भागीदारी

संयुक्त राष्ट्र संघ की रिपोर्ट के अनुसार पर्यटन के क्षेत्र में दुनिया में सबसे अधिक संभावनाएं एडवेंचर के क्षेत्र में है, और इसमें रोजगार की भी अपार संभावनाएं है। उत्तराखण्ड में साहसिक खेलों के लिए पर्याप्त संभावनाएं हैं। उत्तराखण्ड में पर्यटन, फिल्म, ग्रामीण क्षेत्रों के विकास एवं स्वास्थ्य सुविधाओं पर राज्य सरकार का विशेष ध्यान है। प्रत्येक जनपद में थीम बेस्ड डेस्टिनेशन विकसित किये जा रहे हैं। पूरे प्रदेशवासियों को अटल आयुष्मान योजना से आच्छादित करने वाला उत्तराखण्ड देश का पहला राज्य है। इसके लिए भारत सरकार की ओर से उत्तराखण्ड को सम्मानित भी किया गया।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने 26 करोड़ 83 लाख 64 हजार रुपये की कल्जीखाल विकासखण्ड की पेयजल योजना का लोकार्पण किया। इस योजना से 02 हजार 370 पेयजल संयोजन दिये गये हैं। योजना का लाभ 59 राजस्व ग्रामों, 19 ग्राम पंचायतों एवं 68 बस्तियों को मिलेगा।इसका श्रोत नयार नदी है।

सीएम व तीरथ रावत एयर बैलून से उड़ते हुए

शुभांग रतूड़ी को श्रद्धांजलि

सीएम ने संबोधन की शुरुआत में प्रसिद्ध पैराग्लाइडर शुभांग रतूड़ी को श्रद्धांजलि दी। कुछ दिन पूर्व बिलखेत में ही पैराग्लाइडिंग का प्रशिक्षण देते हुए शुभांग घायल हो गए थे। इलाज में ठीक होने के बावजूद अचानक मृत्यु हो गई।

इस अवसर पर उच्च शिक्षा एवं सहकारिता राज्य मंत्री डाॅ. धन सिंह रावत, सांसद तीरथ सिंह रावत, विधायक मुकेश कोली, जिलाध्यक्ष भाजपा पौड़ी संपत सिंह रावत, ब्लाॅक प्रमुख श्रीमती बीना राणा, एडिशनल कमिश्नर हरक सिंह, जिलाधिकारी धीराज गर्ब्याल, एसएसपी  श्रीमती रेणुका देवी,होटल व्यवसायी अजय सतीजा, आदि उपस्थित थे। कार्यक्रम का सफल संचालन गणेश कुकशाल गणी ने किया।

Uttarakhandnews

Leave a Reply

Your email address will not be published.