UttarakhandDIPR

कोर्ट की रोक हटी, कोटद्वार-रामनगर के बीच चलेंगी जीएमओयू की बसें. आदेश व वीडियो देखें

अविकल उत्त्तराखण्ड


देहरादून। अदालत की रोक हटने के बाद अब कोटद्वार व रामनगर के बीच गढ़वाल मंडल विकास निगम की बसें चलेंगी।  वन मंत्री हरक सिंह रावत व
पीसीसीएफ हॉफ के साथ वरिष्ठ अधिकारियों की समीक्षा बैठक में यह निर्णय लिया गया।  न्यायालय द्वारा लगाई गई रोक हटने के बाद विभाग ने कंडी मार्ग पर जीएमओ की बस चलाने का फैसला किया।

वन मन्त्री हरक सिंह रावत

वन एवं पर्यावरण मंत्री डाॅ हरक सिंह रावत ने बताया कि कहा कि  पाखरौं-मोरघट्टी-कालागढ-रामनगर वन मोटर मार्ग पर सार्वजनिक बसों का संचालन जो कि विगत कई वर्षाे से बन्द था, उक्त मार्ग को खोले जाने का निर्णय लिया गया है। काफी लम्बे समय से स्थानीय लोगो द्वारा यह मांग की जा रही थी कि पाखरौं-मोरघट्टी-कालागढ-रामनगर मार्ग को खोला जाए। इस मार्ग के खोले जाने से उत्तराखण्ड के लोगों को गढवाल से कुमाऊं जाने में अत्यंत कम दूरी तय करनी पडेगी।

वन पर्यावरण मंत्री हरक सिंह रावत

उन्होंने बताया की पाखरो-कालागढ-रामनगर मोटर मार्ग में शुरू होना इसलिए भी आवश्यक है कि कोरोना काल में चिकित्सा उपचार हेतु प्रदेश के लोगों को कुमाऊं से गढवाल आने के लिए पास बनाने की परेशानी से जूझना पड़ा । लोगों को कई-कई घंटे तक बार्डरों में खडे रहना पड़ा। वन मंत्री ने बताया कि इस मोटर मोर्ग के शुरू होने से उत्त्तराखण्ड के लोग अब उत्तरप्रदेश में प्रवेश किए बिना गढवाल से कुमाऊं तथा कुमाऊं से गढवाल में यात्रा कर सकेगे।

Uttarakhandnews Uttarakhandnews Uttarakhandnews Uttarakhandnews

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content of this site is protected under copyright !!