उच्च शिक्षा के पांच शिक्षकों को मिलेगा भक्तदर्शन पुरुस्कार- डॉ धन सिंह

शिक्षाविद व राजनेता स्वर्गीय भक्तदर्शन के सम्मान में 9 नवंबर को पुरुस्कृत होंगे शिक्षक

अविकल उत्त्तराखण्ड

देहरादून। राज्य के प्रख्यात शिक्षाविद्, समाजसेवी व पूर्व सांसद स्व. भक्त दर्शन के सम्मान में  पांच शिक्षकों को राज्य स्थापना दिवस के मौके पर ‘भक्त दर्शन’ पुरस्कार से नवाजा जायेगा। उच्च शिक्षा के विभिन्न क्षेत्रों में कार्य करने वाले शिक्षकों को यह पुरस्कार वर्ष 2019-20 के लिये दिया जायेगा।  वर्ष 2020-21 व उसके बाद के पुरस्कार आगामी वर्षों में डाॅ. भक्त दर्शन की जयंती पर फरवरी माह में दिये जायेंगे।

Uttarakhand higher education

उच्च शिक्षा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डाॅ. धन सिंह रावत ने गुरुवार को विधानसभा में उच्च शिक्षा विभाग की समीक्षा बैठक में यह निर्णय लिया।

डाॅ. रावत ने अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि 30 अक्टूबर तक विश्वविद्यालयों एवं महाविद्यालयों द्वारा आयोजित विभिन्न परीक्षाओं के परीक्षा परिणाम जारी करें।

डाॅ. रावत ने बताया कि राज्य के सभी 105 महाविद्यालयों में  प्राचार्यों के  शत-प्रतिशत पद भर दिए हैं  जबकि शिक्षकों की 92 फीसदी पदों पर  तैनाती की जा चुकी है, जिसमें संविदा एवं अतिथि शिक्षक भी शामिल है।

Uttarakhand higher education

उन्होंने बताया कि नया शिक्षा सत्र प्रारम्भ होने से पूर्व महाविद्यालयों में शत-प्रतिशत शिक्षकों की तैनाती कर दी जायेगी।  विभागीय मंत्री डाॅ रावत ने निदेशक उच्च शिक्षा को शेष 350 पदों पर आयोग को अधियाचन भेजने के निर्देश दिये।

बैठक में प्रमुख सचिव उच्च शिक्षा आनंद बर्द्धन, सलाहकार रूसा प्रो. एम.एस.एम रावत, प्रो. के.डी. पुरोहित,  निदेशक आईटीडीए अमित सिन्हा, निदेशक उच्च शिक्षा डॉ कुमकुम रौतेला, संयुक्त सचिव एम.एम.सेमवाल, नोडल रूसा डाॅ0 रचना नौटियाल, उप निदेशक उच्च शिक्षा डाॅ.ए.एस. उनियाल,, सहायक निदेशक प्रो. जी.सी. गोस्वामी, डाॅ. दीपक पांडेय, डाॅ. विनोद कुमार, उप सचिव एस.एस.त्रिपाठी, अनुसचिव ब्योमकेश दुबे सहित अन्य कई अधिकारी उपस्थित रहे।

Uttarakhandnews

Leave a Reply

Your email address will not be published.