सीएम ने जवानों के साथ दीवाली की खुशियां बांटी.कहा, आला अधिकारी सीमांत में करेंगे कैम्प

दीवाली के दिन मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने आईटीबीपी के कैम्प कोपांग व हर्षिल में जवानों के साथ बिताया काफी समय

जवानों व महिला कर्मियों के जज्बे को सराहा,मिठाई खिलाई

उत्तराखण्ड का सेना एवं अर्द्धसैन्य बलों से रहा है गहरा नाता- मुख्यमंत्री

आईटीबीपी कोपांग कैम्प/बिहार रेजीमेंट हर्षिल से रिपोर्ट

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने उत्त्तराखण्ड के सीमांत इलाके में देश की रक्षा में जुटे जवानों के साथ दीवाली मना कर उनका हौसला बढ़ाया। साथ ही यह भी कहा कि साल में एक बार राज्य के आईएएस, आईएफएस व आईपीएस अधिकारी सींमात क्षेत्रों में कैम्प करेंगे।

Uttarakhand army

शनिवार को सीएम देहरादून से उड़कर उत्तरकाशी के सीमांत इलाके में आईटीबीपी व बिहार रेजिमेंट की यूनिट में पहुंचे। जवानों ने उन्हें गॉर्ड आफ ऑनर दिया।
सीएम ने कैम्प कोपांग में आईटीबीपी जवानों एवं हर्षिल में 9वीं बटालियन बिहार रेजिमेंट  के जवानों के साथ दीपावली मनायी। मुख्यमंत्री ने कहा कि दुर्गम एवं सीमान्त क्षेत्रों में महिला अधिकारी जिस जज्बे के साथ ड्यूटी कर रहे हैं, वह अनुकरणीय है।

Uttarakhand army

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि सीमा पर डटे जवानों के साथ दीवाली मनाना मेरे लिए सौभाग्य की बात है। उत्तराखण्ड का सेना एवं अर्द्धसैन्य बलों से गहरा नाता रहा है।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने जवानों का हौसला बढ़ाया एवं जवानों व उनके परिवारजनों को दीपावली की शुभकामनाएं दी। जवानों को मिठाई भी खिलाई।

मुख्यमंत्री  त्रिवेन्द्र ने कहा कि हमारी सेना और अर्द्ध सैनिक बलों के जवान सीमान्त एवं दुर्गम क्षेत्रों में देश की रक्षा के लिए कठिन परिस्थितियों में कार्य करते हैं। इन सैनिकों की वजह से पूरा देश चैन की नींद सोता है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि  सेना एवं अर्द्ध सैन्यबलों के प्रति देश का सम्मान, श्रद्धा एवं विश्वास का भाव रहता है। हमारे सैन्य बल दुनिया के सर्वोत्कृष्ट सैन्य बल माना जाता है।

इस अवसर पर विधायक  गोपाल सिंह रावत, मुख्यमंत्री के औद्योगिक सलाहकार डॉ. के.एस.पंवार, विशेष सचिव  पराग मधुकर धकाते,  उत्तरकाशी के डीएम मयूर दीक्षित, पुलिस अधीक्षक पंकज भट्ट, सेना एवं आईटीबीपी के जवान उपस्थित थे।

Uttarakhandnews

Leave a Reply

Your email address will not be published.