UttarakhandDIPR

.. बेसहारा अंकित व डैनी अब नहीं गुजारेंगे फुटपाथ पर सर्द रातें

सोशल मीडिया में वायरल हुई थी अंकित और डैनी की रात में एक चादर में सोते हुए फोटो

अंकित के पिता जेल में, मां छोड़कर चली गयी, साथ मिला डैनी का

अविकल उत्त्तराखण्ड

मुजफ्फरनगर।
नाम है अंकित . उम्र यही कोई 10-12 साल. घटना मुजफ्फरनगर के शिव चौक की .हर रात अंकित की इसी शिव चौक के पास फुटपाथ पर गुजरती है. और साथ होता है उसका डॉगी डैनी। अंकित आसपास के ढाबे में काम करता है और रात को डैनी के साथ यहीं पर चादर ओढ़ कर सो जाता है।जानलेवा सर्दी में डैनी और अंकित एक दूसरे को ठंड से बचाने की जुगत में लगे रहते।

सोशल मीडिया में वायरल इसी फोटो के बाद संवेदनशील जनता ,पुलिस प्रशासन ने अंकित व डैनी को तलाशा

अंकित ही डैनी के लिए भोजन का प्रबंध करता है।  बीते दिनों दिनों अंकित की फुटपाथ पर सोते हुए एक फोटो सोशल मीडिया में वायरल हुई। वायरल होने के बाद आम।जनता व पुलिस ने पता लगाने की कोशिश की कि यह लड़का है कौन जो फुटपाथ पर कुत्ते के साथ सोया है ।

एक दिन मुज़्ज़फरनगर पुलिस ने अंकित को खोज निकाला । बातचीत के बाद जो सच्चाई सामने आई वह बहुत भावुक कर देने वाली थी। अंकित के पिता जेल में है और कुछ साल पहले उसकी मां उसे अकेला छोड़ कर कहीं और चली गई । छोटी सी उम्र में बेसहारा हो गया। अंकित इस पोजीशन में नहीं था कि वह अपनी मां को तलाश कर सके वह बेसहारा हो चुका था । खाने-पीने के लाले पड़ गए थे ।

लिहाजा, अंकित एक ढाबे में काम करने लगा और शिव मूर्ति चौक के पास के फुटपाथ को अपना बिछौना बना लिया।  अंकित को साथ मिला एक मजबूत सहारा मिला लावारिस कुत्ते का। नाम रखा डैनी। फिर डैनी और अंकित एक साथ रहने,खाने और सोने लगे। पक्के दोस्त हो गए दोनों।

डैनी और अंकित की वायरल फोटो से आम जनता और पुलिस प्रशासन ने एक दिन खोज निकाला।

मुजफ्फरनगर के पुलिस अधिकारी अभिषेक यादव ने अंकित की पढ़ाई और रहने की व्यवस्था की है।  डैनी और अंकित अब इस जानलेवा ठंड में साथ साथ खुले आकाश के नीचे नहीं सोएंगे उन्हें एक आसरा मिल गया है। शुक्रिया मुजफ्फरनगर की जनता व पुलिस प्रशासन।

Uttarakhandnews Uttarakhandnews Uttarakhandnews Uttarakhandnews

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content of this site is protected under copyright !!