#

आल वेदर रोड-पद्मश्री कल्याण सिंह ने HPC चैयरमैन रवि चोपड़ा पर किये प्रहार.देखें वीडियो

कहा, जिनका उत्त्तराखण्ड से ज्यादा सम्बन्ध नहीं वे लोग कर रहे विरोध

बैठक-बीआरओ ने हाईपावर कमेटी से कहा, चीन से विवाद व सामरिक महत्व की सड़क की चौड़ाई कम नही जाय.

अविकल उत्त्तराखण्ड

ऑल वेदर रोड की चौड़ाई को लेकर देहरादून में पद्मश्री कल्याण सिंह रावत ने हाई पावर कमेटी के अध्यक्ष रवि चोपड़ा पर तीखे प्रहार किए । उन्होंने कहा कि जिन लोगों का उत्त्तराखण्ड से ज्यादा सम्बन्ध नहीं है उन्हें हाई पावर कमेटी में जगह दी गयी है।

All weather road

यह कमेटी सरकार ने नही बनाई।उन्होंने कहा कि हाई पावर कमेटी में कुछ बाहरी लोग all weather road की चौड़ाई का विरोध कर रहे हैं जबकि 70 प्रतिशत काम हो चुका है । कल्याण सिंह ने कहा कि इस रोड की चौड़ाई कम न की जाए क्योंकि 70 प्रतिशत काम पूरा हो चुका है। ( वीडियो)

पद्मश्री कल्याण सिंह रावत

कल्याण सिंह और कुछ अन्य संगठन से जुड़े लोग बुधवार को देहरादून के रेंजर्स ग्राउंड के वन विभाग परिसर में आहूत हाई पावर कमेटी की बैठक में अपनी बात कहने गए थे लेकिन उन्हें बैठक में जाने नहीं दिया गया ।

इधर, बुधवार को सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित हाई पावर कमेटी की बैठक में सीमा सड़क संगठन (BRO) ने साफ  कहा कि ऑल वेदर रोड सामरिक महत्व की सड़क है और चीन की बॉर्डर पर जारी तैयारियों को देखते हुए हैं इस रोड की चौड़ाई को कम न किया जाए
। सीमा पर जिस तरीके की तनाव की स्थिति बनी है उसको देखते हुए इस रूट की पूर्व में तय की गई चौड़ाई ही रखी जाए । सेना के अधिकारियों ने कहा कि अधिकतर स्थानों पर रोड कटान कर काम हो चुका है और अब जो शेष काम बचा है उससे बहुत ज्यादा पेड़ नहीं कटेंगे।

गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट ने हाई पावर कमेटी की सिफारिश को देखते हुए ऑल वेदर रोड की चौड़ाई साढ़े 5 मीटर रखने का आदेश किया था। इसके बाद केंद्र सरकार सेना व राज्य सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में एक रिव्यु पिटीशन फाइल की है।  पूर्व में सड़क की चौड़ाई को 12 मीटर रखा गया था। हालांकि बाद में विवाद होने पर इस सड़क की चौड़ाई 7.50 मीटर कर दी गई थी। सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर ही यह बैठक बुलाई गई थी।

इस मुद्दे पर हाईपावर कमेटी के सदस्यों के बीच भी विवाद बताया जा रहा है।

हाई पावर कमेटी की बैठक में चेयरमैन रवि चोपड़ा गढ़वाल कमिश्नर रविनाथ रमन, सेना के अधिकारी व राष्ट्रीय राजमार्ग के अधिकारी मौजूद थे।

Uttarakhand news Uttarakhand news Uttarakhand news Uttarakhand news Uttarakhand news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *