कोरोना-तीन की मौत, 22 हजार से अधिक सैंपल पेंडिंग,एग्जाम स्थगित

देहरादून में बने 4 नये कंटेंमेंट जोन

कोरोना की वजह से गढ़वाल विवि की 9 से 15 अप्रैल तक होने वाले सभी पाठ्यक्रम के सभी केंद्रों में होने वाले एग्जाम स्थगित। परीक्षा नियंत्रक ने गुरुवार को किया आदेश। देखिये आदेश कॉपी व news link

पीएम मोदी ने जाना राज्यों में कोरोना संक्रमण का हाल

अविकल उत्त्तराखण्ड

देहरादून। उत्त्तराखण्ड में गुरुवार को कोरोना से तीन लोगों की मौत का समाचार है। 787 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए। 22,981 कोविड सैंपल की रिपोर्ट आनी बाकी है। गुरुवार को देहरादून में 239, हरिद्वार  277 व पौड़ी में 132 संक्रमित मिले। चंपावत में सबसे कम 1 व्यक्ति संक्रमित मिला। 265 मरीज ठीक भी हुए। जबकि 5042 एक्टिव केस पूरे राज्य में।मौजूद हैं। धीरे धीरे पहाड़ी जिलों में भी संक्रमण बढ़ता जा रहा है (देखिये हेल्थ बुलेटिन)।

गुरुवार को देहरादून में 4 नए कंटेन्मेंट जोन बने। इसके अलावा, कोरोना की रोकथाम को लेकर पीएम मोदी की बुलायी गई वीडियो कॉन्फ्रेसिंग में सीएम तीरथ रावत ने राज्य के संक्रमण से केंद्र को बताया। राज्य में रिकवरी रेट 91 प्रतिशत से अधिक है। बीते एक साल में  105498 कोरोना संक्रमित के मामले हुए। इसमें 97 हजार ठीक हुए। जबकि एक साल में 1744 मौत (1.65 प्रतिशत) हुई।

देहरादून के नए कंटेंमेंट जोन


जिलाधिकारी डाॅ आशीष कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि नगर निगम देहरादून क्षेत्रान्तर्गत 4 ए रेसकोर्स, 126 महेन्द्र विहार चकराता रोड एवं सीडीए कालोनी , सी-3 मन्दाकिनी राजपुर रोड, तथा विकासनगर क्षेत्रान्तर्गत स्थित होपटाउन गल्र्स स्कूल बहादुरपुर रोड सेलाकुई में कोरोना वायरस व्यक्ति चिन्हित होने के फलस्वरूप उक्त 4 क्षेत्रों को कन्टेनमंेट जोन घोषित किया गया है। FRI में भी एक दर्जन ट्रेनी पीएफएस अधिकारी कोरोना संक्रमित पाए गए। सजे बाद पूरे स्टाफ का कोरोना टेस्ट कराया गया। उधर,कोरोना की दो डोज लगने के बाद एसटीएफ के सीओ अंकुश मिश्रा भी कोरोना पॉजिटिव पाये गए।

जिलाधिकारी ने समस्त उप जिलाधिकारियों को निर्देशित किया कि कोविड-19 संक्रमण के प्रसार की रोकथाम के लिए प्रभावी सर्विलांस एवं गृह मंत्रालय भारत सरकार एवं राज्य सरकार द्वारा कोविड-19 संक्रमण की रोकथाम हेतु समय-समय पर जारी एस.ओ.पी में वर्णित प्राविधानों का अनिवार्यतः पालन करवाया जाए तथा मानकों का पालन न करने वालों के विरूद्ध सख्त कार्यवाही की जाए। 

जिलाधिकारी ने नगर निगम देहरादून एवं ऋषिकेश सहित समस्त नगर पालिका परिषद के अधिशासी अधिकारियों को निर्देशित किया कि बाजारों, सार्वजनिक स्थानों पर्यटन स्थलों, पार्कों एवं अन्य प्रमुख स्थानों में साफ-सफाई के साथ ही कीटनाशक दवा, फाॅगिंग सोडियम हाइपोक्लोराइट आदि दवाओं का नियमित छिड़काव करायें। उन्होंने जनपद में अवस्थित व्यवसायिक प्रतिष्ठानों, होटल व्यवसायियों, अन्य लघु व्यवसायियों से अपील की है कि कोविड-19 संक्रमण की रोकथाम हेतु केन्द्र एवं राज्य सकार के दिशा निर्देशों का अनुपालन करते हुए संक्रमण की रोकथाम में प्रशासन को सहयोग करें।

जिलाधिकारी के निर्देशें के अनुपालन में गैस सिलेण्डरों पर कोविड-19 संक्रमण की रोकथाम एवं जागरूता सम्बन्धी स्टिकर चस्पा किए जा रहे है। उन्होंने समस्त विभागों को योजना के क्रियान्वयन एवं प्रचार-प्रसार, पत्राचार आदि के साथ कोविड-19 से बचाव हेतु जागरूकता सन्देश प्रसारित करने के निर्देश दिए।

जिलाधिकारी डाॅं0 आशीष कुमार श्रीवास्तव ने बताया है कि जनपद में कोरोना वायरस संक्रमण के     दृष्टिगत प्राप्त हुई रिपोर्ट में 239 व्यक्तियों की रिपोर्ट पाॅजिटिव प्राप्त होने के फलस्वरूप जनपद में आतिथि तक कोरोना से संक्रमित व्यक्तियों की संख्या 33198 हो गयी है, जिनमें कुल 29786 व्यक्ति उपचार के उपरान्त स्वस्थ हो गये हैं। वर्तमान में जनपद में  1979 व्यक्ति उपचाररत हैं। इसके अतिरिक्त जनपद में आज जांच हेतु कुल 8336 सैम्पल भेजे गये। 

गुरुवार को देहरादून में मास्क का उपयोग ना करने एवं सामाजिक दूरी के मानकों का उल्लंघन करने पर 803 व्यक्तियों के चालान किए गए।

पीएम मोदी ने जानी राज्यों में कोरोना की स्थिति

प्रधानमंत्री  नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में आयोजित वीडियो कांफ्रेंसिग में देश में कोविड-19 और वैक्सीनैशन की वर्तमान स्थिति की समीक्षा की गई।

इसमें केन्द्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह, केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री डाॅ हर्षवर्धन सहित विभिन्न राज्यों के मुख्यमंत्रियों और केंद्र शासित प्रदेशों के उपराज्यपालों ने हिस्सा।लिया किया। मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने भी वीडियो कांफ्रेंसिग में अपनी बात कही।

वीडियो कांफ्रेंसिग के बाद राज्य के अधिकारियों के साथ बैठक करते हुए मुख्यमंत्री  तीरथ सिंह रावत ने प्रदेश में आरटीपीसीआर टेस्टिंग बढाने, संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए ट्रेसिंग, माइक्रो कन्टेनमेंट जोन और सर्विलांस पर और अधिक गम्भीरता से काम करने के निर्देश दिये। डेथ रेट को कम करने के लिए क्लिनिकल केयर और ट्रीटमेंट को सर्वोच्च प्राथमिकता से लिया जाए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि बढ रहे मामलों को देखते हुए पहले की तरह ही दृढसंकल्प के साथ काम करना है।

मास्क व सोशल डिस्टेंसिंग का अनिवार्यता से पालन कराने के लिए जनजागरूकता अभियान चलाए जाएं। जो लोग कोविड गाइडलाइन का पालन न करे, उनपर सख्त कार्रवाई की जाए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पूरे देश में वैक्सीनैशन का बङा अभियान चल रहा है।  वैक्सीनैशन में उत्तराखंड देश के अग्रणी राज्यों मे है। राज्य में इसकी रफ्तार को और बढाना है। केन्द्र सरकार द्वारा निर्धारित मानकों में आ रहे लोगों का शत प्रतिशत वैक्सीनैशन सुनिश्चित किया जाना है।

इस अवसर पर मुख्य सचिव ओमप्रकाश, डीजीपी अशोक कुमार, सचिव अमित नेगी, नितेश झा, पंकज पाण्डेय व एस ए मुरूगेशन उपस्थित थे।

गढ़वाल विवि एग्जाम स्थगित

कोरोना की वजह से गढ़वाल विवि की 9 से 15 अप्रैल तक होने वाले सभी पाठ्यक्रम के सभी केंद्रों में होने वाले एग्जाम स्थगित। परीक्षा नियंत्रक ने गुरुवार को किया आदेश। देखिये आदेश कॉपी व news link

कोरोना-परीक्षा स्थगित,pls क्लिक

कोरोना-गढ़वाल विवि की 9 से 15 अप्रैल तक होने वाली परीक्षाएं स्थगित, देखें आदेश

सीएम कार्यालय ने कहा, नन्दप्रयाग- घाट सड़क का शासनादेश जल्द करिये

ब्रेकिंग- वैक्सीन की दोनों डोज के बाद भी दो चिकित्सक कोरोना पॉजिटिव, हड़कंप मचा

एक्सक्लूसिव- चंबा-टिहरी फलपट्टी- पूर्व डीएम ने वन मंत्रालय को ठेंगा दिखा लीज बढ़ायी

उत्त्तराखण्ड में बिकी नाबालिग, शादी के खुलासे के बाद गांव लौटी,वीडियो देखें

Nalanda
Flower

अपनी प्रतिक्रिया साझा करे

error: Content of this site is protected under copyright !!