विदाउट मास्क भरो जुर्माना लेकिन 4 मास्क भी मिलेंगे बिल्कुल फोकट में

कोविड-वारियर्स की मृत्यु पर 10 लाख आर्थिक सहायता

अब आंदोलित आशा फेसिलिटेटर को भी दो-दो हजार रूपये सम्मान राशि

अविकल उत्तराखण्ड ब्यूरो

देहरादून। अगर आपने मास्क नही पहना है तो जुर्माना भरना पड़ेगा।  इसके अलावा जुर्माने की रसीद काटने वाले आपको चार वॉशेबल मास्क भी देंगे वो भी मुफ्त। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत ने शनिवार को सचिवालय में हुई वीडियो कॉन्फ़्रेंसिंग में यह निर्देश दिए।

जुर्माना भरो और लीजिये 4 वॉशेबल मास्क

बैठक में कोविड-वारियर्स की मृत्यु पर भी मुख्यमंत्री राहत कोष से 10 लाख आर्थिक सहायता देने का भी फैसला हुआ।

इसके अलावा अब आंदोलित आशा फेसिलिटेटर को भी दो-दो हजार रूपये सम्मान राशि शीघ्र ही उनके खातों में जमा की जाएगी।

प्रतीक चित्र आशा फैसिलिटेटर

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने कहा कि मास्क का प्रयोग न करने वालों पर जुर्माना तो लगाया जाय, लेकिन जुर्माने के साथ ही उन्हें 4-4 वाॅशेबल मास्क भी दिए जाए।

सार्वजनिक स्थानों पर मास्क का उपयोग न करने  एवं नियमों को उल्लंघन करने पर पहली बार 200 व दूसरी बार 500 रूपये का जुर्माना लगाया जायेगा। ट्रेवल हिस्ट्री की गलत जानकारी देने व तथ्य छुपाने पर सख्त कारवाई की जाय।

वीडियो कॉन्फ़्रेंसिंग

मुख्यमंत्री ने शनिवार को सचिवालय में कोविड-19 के संक्रमण तथा बचाव हेतु स्वास्थ्य विभाग एवं जिलाधिकारियों से वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से समीक्षा की।

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने घोषणा की कि आशा एवं आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों की भांति आशा फेसिलिटेटर को भी दो-दो हजार रूपये सम्मान निधि के रूप में दी जायेगी।

प्रतीक चित्र आशा फैसिलिटेटर

आशा एवं आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों को मुख्यमंत्री ने रक्षा बंधन के अवसर पर एक-एक हजार एवं उससे पूर्व भी सम्मान राशि के तौर पर एक-एक हजार रूपये देने की घोषणा की थी। उन्होंने सभी जिलाधिकारियों को निर्देश दिये कि यह सम्मान राशि लाभार्थियों के खाते में जल्द डाली जाय। 

इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने उत्तराखण्ड में होम-आइसोलेशन निर्देश पुस्तिका का विमोचन भी किया।

मुख्य सचिव ओम प्रकाश ने सैंपल टेस्टिंग रिपोर्ट में तेजीन लाने की बात कही। उन्होंने कहा कि उधमसिंह नगर, नैनीताल एवं हरिद्वार जनपद में विशेष सतर्क रहने की जरूरत है।

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में सचिव स्वास्थ्य अमित नेगी
डीजी लाॅ एण्ड आर्डर अशोक कुमार, सचिव शैलेष बगोली, शपंकज पाण्डेय, एस.ए. मुरूगेशन, गढ़वाल कमिश्नर रविनाथ रमन, आईजी संजय गुंज्याल, डायरेक्टर मेडिकल एजुकेशन युगल किशोर पंत, अपर सचिव श्रीमती सोनिका, डीजी स्वास्थ्य डाॅ. अमिता उप्रेती आदि उपस्थित थे।

Uttarakhandnews

Leave a Reply

Your email address will not be published.