कांग्रेस के माननीय निकले दिलदार
भाजपा विधायकों का तंगदिल हाल


कोरोना फंड-मूल वेतन और कुल वेतन की कटौती से खुली पोल


नाराज नेता प्रतिपक्ष ने मुख्यमन्त्री को लिखा पत्र


कोरोना सीएम राहत कोष मामले में बीजेपी की किरकिरी


उत्तराखण्ड कांग्रेस के 6 अगस्त से शुरू होंगे वर्चुअल सम्मेलन


अविकल उत्तराखंड ब्यूरो


देहरादून। कोरोना कोष में अपने कुल वेतन में कटौती के बजाय मूल वेतन से 30 प्रतिशत पैसा कटवाने के मामले में उत्तराखंड सरकार के 57 भाजपा विधायक बुरी तरह घिर गए। सूचना के अधिकार कानून के तहत मिली चौंकाने वाली जानकारी से राज्य की राजनीति में भूचाल आ गया है।

कुल मिलाकर लब्बोलुआब यह निकला कि कांग्रेस के 11 विधायक अपनी कुल वेतन से 57 हजार रुपए महीना कटवा रहे थे जबकि भाजपा के माननीय मूल वेतन से सिर्फ 9 हजार प्रति माह।


इस मुद्दे को कांग्रेस ने लपका। और नेता प्रतिपक्ष इंदिरा ह्रदयेश ने कोरोना सीएम फंड में भाजपा विधायकों के मूल वेतन से कोरोना कटौती को मुद्दा बनाते हुए मुख्यमन्त्री को तीखा पत्र लिखा है।
नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि सूचना के अधिकार के तहत मिली जानकारी से पता चला है कि भाजपा विधायक कोरोना फंड के लिए मूल वेतन से कटौती करवा कोष में कम पैसा जमा कर रहे हैं जबकि कांग्रेस विधायक कुल वेतन से 30 प्रतिशत कटौती करवा अधिक पैसा जमा कर रही है।

कांग्रेस विधायक मनोज रावत


उन्होंने कहा कि कोरोना संकट में कांग्रेस राज्य सरकार के साथ खड़ी होकर पूरा सहयोग कर रही है । भाजपा विधायकों के इस रुख से कांग्रेस विधायकों में भारी आक्रोश है।
केदारनाथ विधानसभा से कांग्रेस विधायक मनोज रावत ने सूचना के अधिकार के तहत यह जानकारी ली। कोरोना काल में कांग्रेस के सभी 11 विधायक कुल वेतन से 30 प्रतिशत कटौती करवाते हुए प्रति माह 57 हजार की धनराशि मुख्यमंत्री कोरोना फण्ड में जमा कर रहे है। जबकि भाजपा के 57 विधायक मूल वेतन से कटौती करवाते हुए प्रतिमाह 9 हजार रुपये ही मुख्यमन्त्री कोष में जमा कर रहे है।
नेता प्रतिपक्ष ने मूख्यमंत्री को लिखे पत्र में कहा कि अब से कांग्रेस विधायकों के भी मूल वेतन से 30 प्रतिशत की कटौती की जाय। (देखें पत्र)


उधर, कांग्रेस नेता सूर्यकांत धस्माना ने कहा कि आरटीआई के खुलासे ने पूरे प्रदेश व देश को बता दिया कि कांग्रेस विधायकों ने बीजेपी विधायकों से कई गुना पैसा सीएम राहत कोष में दिया और जो मंत्री व विधायक सबसे ज्यादा चिल्ला चिल्ला कर कांग्रेस से सवाल कर रहे थे वे स्वयं इस मामले में फ़िसड्डी साबित हुए।


कांग्रेस के वर्चुअल सम्मेलन 6 अगस्त से


उत्तराखंड प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह 6 अगस्त से नैनीताल-हल्द्वानी के वर्चुअल सम्मेलन का शुभारंभ करेंगे। यह घोषणा आज कांग्रेस मुख्यालय में आयोजित प्रेस वार्ता में उत्तराखंड प्रदेश कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्माना ने की।


उन्होने बताया कि राज्य के सभी 13 जिलों में इस तरह के सम्मेलन आयोजित किए जाएंगे।इन सम्मेलनों में संगठनात्मक व भविष्य के कार्यक्रम की चर्चा होगी।
पत्रकार वार्ता में निवर्तमान प्रदेश प्रवक्ता गरिमा दसौनी, पार्टी के आईटी विभाग के प्रदेश अध्यक्ष सरदार अमरजीत सिंह, उपाध्यक्ष विशाल मौर्या, विजय भट्ट, राजेश चमोली आदि मौजूद थे।

Uttarakhandnews

Leave a Reply

Your email address will not be published.