योगी सरकार में कैबिनेट मंत्री कमल रानी का कोरोना से निधन, योगी का अयोध्या दौर स्थगित

लखनऊ। योगी सरकार में प्राविधिक शिक्षा मंत्री कमल रानी का रविवार सुबह लखनऊ पीजीआई में निधन हो गया। कोरोना संक्रमण की चपेट में आने पर उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था, वह लेवल-थ्री की मरीज थीं। उनकी मौत की सूचना मिलते ही क्षेत्र में शोक की लहर दौड़ गई।

उनका पूरा नाम कमला रानी वरुण था और वे यूपी विधानसभा की सदस्य थीं। कोरोना वायरस संदिग्ध होने पर 17 जुलाई को उनका सैंपल लिया गया था। 18 जुलाई को उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद उन्हें लखनऊ के पीजीआई अस्पताल में भर्ती कराया गया था। वह कानपुर के घाटमपुर से विधायक हैं।

निजी सचिव अंकित दीक्षित ने सुबह करीब पौने 10 बजे पीजीआई लखनऊ में कमल रानी वरुण का निधन होने की जानकारी दी। कमल रानी वरुण के निधन की सूचना के बाद सीएम योगी आदित्यनाथ ने आज का अपना अयोध्या दौरा स्थगित कर दिया है।

मंत्री कमला रानी को पहले से ही डायबिटीज, हाइपरटेंशन व थायराइड से जुड़ी समस्या थी। उनका ऑक्सीजन लेवल काफी कम हो गया था। हालांकि, शुरुआत के 10 दिनों में उनकी तबीयत स्थिर रही, लेकिन पिछले 3 दिनों से अचानक स्थिति खराब होने लगी। शनिवार की शाम करीब 06:00 बजे तबीयत ज्यादा बिगड़ने के बाद उन्हें बड़े वेंटिलेटर सपोर्ट पर रखा गया। रविवार को सुबह 09:00 बजे उनका निधन हो गया। बीते 18 जुलाई को शाम 05:24 बजे उन्हें एसजीपीजीआई में भर्ती कराया गया था। तब से वह लगातार ऑक्सीजन और छोटे वेंटीलेटर के सपोर्ट पर थी।

बीते दिनों कमल रानी वरुण की रिपोर्ट पॉजिटिव मिलने के बाद उन्हें संजय गांधी पीजी मेडिकल इंस्टीट्यूट ऑफ साइंसेस में आइसोलेट किया गया था। मंत्री की बेटी भी कोरोना पॉजिटिव थी। वह ठीक हो गयी।

यूपी में बीते 24 घंटे के दौरान कोरोना वायरस संक्रमण से 47 और मौतें होने के साथ ही शनिवार को मरने वालों का आंकड़ा बढकर 1,677 हो गया।

इस बीच स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी बुलेटिन के मुताबिक बीते 24 घंटे में हुई कोरोना संक्रमण से 47 मौतों में से छह मौतें लखनऊ में हुईं।

Uttarakhandnews

Leave a Reply

Your email address will not be published.