UttarakhandDIPR

दो भाजपा नेता कोरोना पॉजिटिव, भगत-जाजू बिना मास्क के.

प्रधानमंत्री मोदी जता चुके हैं अपनी चिंता, प्रदेश प्रवक्ता प्रकाश रावत व जिलाध्यक्ष प्रदीप बिष्ट कोरोना पॉजिटिव
दोनों भाजपा नेता बैठकों में शामिल रहे, बंशीधर भगत व श्याम जाजू हरिद्वार में बिना मास्क के कैमरे में कैद
इतनी जल्दी में क्यों है भाजपा, बैठकों का यह उपयुक्त समय नहीं। जाजू के दौरे पर विवाद




रविवार को 239 रिकॉर्ड कोरोना पॉजिटिव मिलने से स्थिति गड़बड़ाई
देहरादून। उत्तराखंड में रविवार को 239 कोरोना पॉजिटिव मामले आने से विशेष हलचल देखी जा रही है। रविवार की सुबह ही प्रधानमंत्री मोदी ने कोरोना पॉजिटिव डेढ़ दर्जन सैनिकों के मुद्दे पर मुख्यमन्त्री त्रिवेंद्र को खास हिदायत भी दी। इधर, हरिद्वार में भाजपा के वरिष्ठ नेता श्याम जाजू, प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत पूजा पाठ करते बिना मास्क के दिखे। नियमों को तोड़ने में भाजपा नेताओं के रवैये की चर्चाएं खूब गर्म है

भाजपा के एक हालिया कार्यक्रम में सोशल डिस्टेंस की उड़ी धज्जियां

उत्तराखंड में कुल 4515 कोरोना मरीज

रविवार को जारी आंकड़े के अनुसार प्रदेश में कुल 4515 कोरोना पॉजिटिव मरीज चिन्हित किये जा चुके हैं। ताजे आंकड़े इसलिए भी चौकाने वाले हैं कि कई मरीजों की कोई ट्रेवल हिस्ट्री भी नही है। शनिवार को भाजपा के दो प्रदेश पदाधिकारी भी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं।

कोरोना काल में भाजपा की बैठकें जारी!

 लेकिन इस समय विशेष मुद्दे की बात यह है कि उत्तराखंड का भाजपा संगठन कोरोना के तेजी से पांव पसारने के बावजूद बहुत जल्दी में दिख रहा है। सरकार की उपलब्धि, संगठन के कार्यक्रमों और भविष्य की रूपरेखा को लेकर राष्ट्रीय व प्रदेश स्तर के पदाधिकारी भरी बरसात में  25 जुलाई तक 70 विधानसभाओं की बैठकों में व्यस्त है। कोरोना के गंभीर संकट के बीच बैठकों का यह सिलसिला 10 जुलाई से शुरू हुआ था।

बैठकों के संचालन के लिए विधानसभावार प्रवास संयोजक भी बनाये गए हैं।कार्यकर्ताओं से फीडबैक लिया जा रहा है। मंथन हो रहा है। अब इन बैठकों में कोविड-19 के नियमों का कितना पालन हो रहा है, यह तो वही जाने।  लेकिन ताजा खबर यह है कि हल्द्वानी से जुड़े भाजपा के प्रदेश प्रकाश रावत व जिलाध्यक्ष प्रदीप बिष्ट कोरोना संक्रमित  पाए गए। भीमताल व नैनीताल विधानसभा की बैठक के प्रवास संयोजक प्रकाश रावत ही थे। इन दोनों नेताओं के सम्पर्क में आये बाकी लोगों का टेस्ट हो जाय तो कई अन्य के भी संक्रमित होने की प्रबल आशंका है।

7 2 साल के भगत बिना मास्क के

प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत भी लगातार दौरे पर चल रहे हैं। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष भगत हरिद्वार में स्वामी कैलाशानंद के साथ पूजा करते बिना मास्क के दिख रहे हैं। उनके ताजे चित्र में यह साफ साफ दिख भी रहा है। यह covid-19  का खुला उल्लंघन माना जा रहा है।

हरिद्वार के मंदिर में लॉकडौन में पूजा करते बंशीधर भगत

क्या यह बैठकों का सही समय है?

उत्तराखंड के राजनीतिक हलके में यह चर्चा भी गर्म है कि आखिर लॉकडौन और कोरोना संक्रमण में तेजी के दौरान ही इन बैठकों को आयोजित करने में पार्टी की क्या मजबूरी थी।

इस खबर के साथ भाजपा की 70 विधानसभाओं में हो रही बैठकों की तारीख के साथ विधानसभा क्षेत्र का पूरा ब्यौरा है। साथ ही इन विधानसभाओं में बैठक ले रहे राष्ट्रीय व प्रदेश स्तरीय पदाधिकारियों का भी जिक्र है।

मौजूदा समय में विधानसभावार प्रवास की सूची में शामिल पदाधिकारी शिवप्रकाश, श्याम जाजू, नरेश बंसल महामंत्री अजेय कुमार, राजेन्द्र भंडारी व कुलदीप कुमार विभिन्न विधानसभा में कार्यक्रम कर रहे हैं। इस दौरान विधानसभा से जुड़े स्थानीय पदाधिकारियों के साथ विभिन्न पार्टी मसलों पर विचार किया जा रहा है। हालांकि,सूची में शिवप्रकाश व श्याम जाजू की बैठकों की तारीख का ब्यौरा नही दिया गया है।

भाजपा नेता ओमप्रकाश जमदग्नि ने हरिद्वार में प्रदेश अध्यक्ष भगत के साथ खींचे गए ताजा चित्र फेसबुक वॉल पर पोस्ट की है। सभी चित्रों में बिना मास्क के दिख रहे हैं और सामाजिक दूरी का भी पालन नही।

दिल्ली से आये श्याम जाजू, नही हुए क्वारंटाइन

यहां खास बात यह है कि श्याम जाजू का दिल्ली से आना और क्वारंटाइन नही होना भी आम जनता में चर्चा का विषय बना हुआ है। बीते दिनों श्याम जाजू देहरादून आये। और वापसी में हरिद्वार के मंदिर में पूजा पाठ कर चल दिये। इस मुद्दे पर विवाद हुआ और विपक्षी दल कांग्रेस ने भी भाजपा पर तीखे प्रहार किए।दिल्ली से आने पर आम जन को क्वारंटाइन होना पड़ रहा है। लेकिन श्याम जाजू के लिए कोविड-19 के नियमों की अनदेखी हो रही है।

कुछ दिन पूर्व दिल्ली से आये भाजपा नेता श्याम जाजू बिना मास्क के हरिद्वार के मंदिर में पूजा करते हुए।

बैठकों में सामाजिक दूरी का पालन?

भाजपा की विधानसभावार जारी बैठकों में सोशल डिस्टेंसिग का कितना पालन हो रहा है। यह भी अजब सवाल बना हुआ है। बैठक के सम्बंध में महामंत्री कुलदीप कुमार की ओर से जारी पत्र में सांसद, विधायकगण, विधायक प्रत्याशी, प्रदेश पदाधिकारी, मंडल पदाधिकारी, दायित्वधारी, ब्लाक प्रमुख, DCB, जिला व नगर निकाय व पंचायत पदाधिकारियों को बुलाया गया है।

इन बैठकों में आमंत्रित नेताओं के अलावा अन्य पार्टी कार्यकर्ता व समर्थकों का पहुंचना भी आम बात है। इस बीच, भाजपा के दो प्रदेश पदाधिकारियों के कोरोना संक्रमित होने से पार्टी में भी हलचल हैं । इन पदाधिकारियों के संपर्क में कई अन्य लोग भी आये होंगे। हल्द्वानी अस्पताल में भर्ती दोनों नेताओं के सम्पर्क में कौन-कौन आया, यह जानने के लिए प्रशासन को पसीने छूट रहे हैं।

25 जुलाई तक है बैठकों का कार्यक्रम

इधर, भाजपा की विधानसभावार बैठकें 25 जुलाई तक चलेंगी। इन सतत बैठकों के नतीजे पार्टी को कितने फलदायी होंगे, यह तो विधान सभावार रिपोर्ट से ही पता चलेगा। लेकिन इन बैठकों में शामिल हो रहे नेताओं पर संक्रमण का खतरा गहराने लगा है। इन बैठकों के अब स्थगित होने की खबर भी आ रही है

फिलहाल, उत्तराखंड में कोरोना का खतरा लगातार बढ़ना किसी बड़े खतरे की ओर इशारा करता दिख रहा है। सामुदायिक संक्रमण की दिशा में तो नहीं बढ़ रहे हैं। लिहाजा,प्रधानमंत्री मोदी की चिंता भी वाजिब ही है।

Uttarakhandnews Uttarakhandnews Uttarakhandnews Uttarakhandnews

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content of this site is protected under copyright !!