हरीश रावत का ट्वीट, किसानों का 200 करोड़ से ज्यादा बकाया

अविकल उत्त्तराखण्ड

भाजपा बहुत चतुराई के साथ दो गलत आंकड़े विधानसभा के पटल पर रख रही है। एक तो गन्ना किसानों के भुगतान को लेकर के, अब भी किसानों का 200 करोड़ से ज्यादा बकाया है और किसान कहां का है, यह महत्वपूर्ण नहीं है, किसान उत्तराखंड का है।

यह महत्वपूर्ण है और दूसरी गलत बयानी अधीनस्थ सेवा चयन आयोग को लेकर के की जा रही है, अरे अधीनस्थ सेवा चयन आयोग का गठन होने के बाद, हम प्रक्रिया प्रारंभ करके गये अधियाचन आदि की, आपने पदों को मृत घोषित कर दिया और अब संख्याबल की आड़ में बचने की कोशिश कर रहे हो, ऐसा इंप्रेशन दे रहे हो, जैसे केवल कांग्रेस के समय में 800 लोगों की भर्ती हुई।

मैं, भाजपा के लोगों से पूछना चाहता हूँ कि, अकेले पुलिस के अन्दर महिलाओं की कितनी भर्ती हुई, वो संख्या जरा बता दो?

√पी.आर.डी. और होमगार्ड कितने नये लोग लिये गये हैं, जरा उस तथ्य को बता दो?
√उपनल के माध्यम से कितने लोग सेवारत हुये, उसको बता दो?
√लेक्चरर और बीएड के कितने पद भरे गये, उसकी संख्या को बता दीजिये?
√टीईटी पर प्रशिक्षितों के कितने पद प्राइमरी में भरे गये, जरा उसकी संख्या को बता दीजिये?
√अतिथि शिक्षक कितने भरे गये, उनकी संख्या को बता दीजिये?
मैं यदि अन्य विभागों का ब्यौरा बताने लग जाऊंगा तो मेरा ट्वीट बहुत लंबा हो जायेगा, इतना ही बता दो तो ये तस्वीर साफ हो जायेगी, जितने पद हमने इसमें भरे हैं, उसके एक चौथाई पद भी भाजपा अपने 5 साल के कार्यकाल में नहीं भर पायेगी, ये आप निश्चित मानकर के चलिये। यदि कुछ अपनी गलती सुधारएंगे भी तो तब भी जितने पद हमारे समय में भरे गये, ये उसके एक चौथाई पद भी नहीं भर पाएंगे, अभी तो केवल हाथ पे हाथ धरे हुये, गलत बयानी के जरिये अपने बेरोजगार नौजवानों के साथ किये गये छल को छुपाने का काम कर रहे हैं।

Uttarakhandnews

Leave a Reply

Your email address will not be published.