अलकनंदा में गिरी कार, भाजपा नेता मोहन प्रसाद व कुलदीप चौहान की मौत, चट्टान में फंसे दोनों शव

पीपलकोटी के पास अलकनंदा नदी में गिरी कार । रविवार को नही निकले जा सके शव।

बदरी-केदार मंदिर समिति के पूर्व अध्यक्ष मोहन प्रसाद और ओबीसी मोर्चा के जिलाध्यक्ष कुलदीप चौहान शनिवार को कर्णप्रयाग बैठक में शामिल होने के बाद जोशीमठ लौट रहे थे।

अविकल उत्त्तराखण्ड

गोपेश्वर। रविवार का दिन उत्त्तराखण्ड के लिए दुर्घटनाओं का दिन रहा।  बदरीनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग  पर पीपलकोटी के पास शनिवार रात हुई दुर्घटना में भाजपा के वरिष्ठ नेता व श्री बदरीनाथ केदारनाथ मंदिर समिति के पूर्व अध्यक्ष मोहन प्रसाद थपलियाल और भाजपा ओबीसी मोर्चा के जिलाध्यक्ष कुलदीप चौहान के निधन की खबर है। सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने दोनों के निधन पर गहरा दुख जताया है।

Uttarakhand accident

कर्णप्रयाग में बैठक से वापस लौटते समय उनकी कार पीपलकोटी के पास अलकनंदा नदी।में गिर गयी। रविवार शाम तक दोनों के शव चट्टान में फंसे होने के कारण निकाले नही जा सके। लेकिन सोशल मीडिया में दोनों के निधन की खबर तेजी से वायरल होने लगी।

बद्री-केदार मन्दिर समिति के पूर्व अध्यक्ष मोहन प्रसाद थपलियाल

मिली जानकारी के मुताबिक जोेशीमठ निवासी भाजपा के वरिष्ठ नेता और श्री बदरीनाथ केदारनाथ मंदिर समिति के पूर्व अध्यक्ष मोहन प्रसाद थपलियाल और भाजपा ओबीसी मोर्चा के जिलाध्यक्ष कुलदीप चौहान शनिवार को पार्टी की बैठक में शामिल होने कर्णप्रयाग आए थे। लेकिन वह रविवार शाम तक घर नहीं पहुंचे और न ही उनसे किसी का संपर्क हो पा रहा था।

रविवार देर शाम तक चला बचाव कार्य

इधर, शनिवार देर रात को बदरीनाथ हाईवे पर पीपलकोटी के पास चाडा नामक स्थान पर एक वाहन अलकनंदा नदी में गिर गया था। वाहन दुर्घटना की सूचना पास के गांव मठ के ग्रामीणों ने पुलिस को दी। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई, लेकिन घटनास्थल पर काफी अंधेरा व गहरी खाई होने के कारण वाहन और वाहन सवारों का कुछ पता नहीं चल पाया। रविवार सुबह एसडीआरएफ और पुलिस की टीम फिर मौके पर पहुंचकर खोजबीन में जुट गई।

चमोली कोतवाली के कोतवाल महेश लखेडा ने बताया कि शाम को एक चट्टान में दो शव फंसे दिखाई दिए, लेकिन अंधेरा होने के कारण शव नहीं निकाले जा सके। उन्होंने कहा कि दोनों शवों को कल निकाला जाएगा।

आशंका जताई जा रही है कि ये दोनों शव भाजपा नेताओं के हैं। शनिवार देर रात को जोशीमठ वापस लौटते समय उनकी कार अलकनंदा में गिर गई।

इससे पूर्व, शनिवार की रात्रि ही नजीबाबाद के पास पूर्वी गंगा नहर में कार गिरने से तहसीलदार सुनैना राणा समेत तीन की दर्दनाक मौत हो गयी। इसके अलावा हल्द्वानी में पति-पत्नी की आत्महत्या व नन्दप्रयाग के पास दुर्घटना में वाहन चालक की मौत की खबर आई।

Uttarakhandnews

Leave a Reply

Your email address will not be published.