#

चार मंत्री समेत डेढ़ दर्जन भाजपा नेता बताएंगे कृषि कानून के लाभ, जिलों में करेंगे प्रेस वार्ता

प्रदेश के 13 जिलों में 15 दिसंबर तक प्रेस करेंगे भाजपा के अध्यक्ष, चार मंत्री व 10 दायित्वधारी

अविकल उत्त्तराखण्ड

देहरादून। कृषि विधेयकों को लेकर जारी किसानों के आंदोलन का कोई सर्वमान्य हल नहीं निकलने के बाद अब भाजपा ने प्रदेश में अपने डेढ़ दर्जन नेताओं को मोर्चे पर लगाया है। ये नेता 13 जिलों में पत्रकार वार्ता कर कृषि  कानूनों पर भाजपा के स्टैंड को जनता के सामने रखेंगे और विपक्षी दलों की खिलाफत भी करेंगे। भाजपा ने चार मंत्रियों समेत करीब डेढ़ दर्जन नेताओं की सूची तैयार की है जो 15 दिसंबर तक जिलों में पत्रकार वार्ता करेंगे। पूर्व की सूची में बाद में किये गए संशोधन के अनुसार डॉ देवेंद्र भसीन की जगह अब केंद्रीय मंत्री रमेश पोखरियाल हरिद्वार में प्रेस से बात करेंगे।

Bjp uttarakhand
रविवार को मैदान में उतरे कैबिनेट मंत्री मदन कौशिक। भाजपा मुख्यालय में पत्रकारों को सम्बोधित करते हुए उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने जो तीन विधेयक किसानों के हित में पारित किए हैं उससे किसानआत्मनिर्भर और सशक्त होगा।

इस मुद्दे पर मोर्चा संभाल रहे कृषि मंत्री सुबोध उनियाल का कहना है कि विपक्ष के झूठ को बेनकाब करने के लिए उत्त्तराखण्ड भाजपा जिलों में संवाद स्थापित कर रही है। इसी के तहत मंत्रियों व अन्य नेताओं की जिलों में ड्यूटी लगाई गई है।

रविवार को देहरादून से कैबिनेट मंत्री मदन कौशिक, हल्द्वानी से प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत व चमोली से मंत्री धन सिंह रावत ने कृषि कानूनों पर प्रेस कर विपक्ष पर हमले की शुरुआत कर दी है।

Bjp uttarakhand
कृषि मंत्री सुबोध उनियाल

भाजपा की ओर से जारी सूची के मुताबिक 15 दिसंबर तक ताबड़तोड़ प्रेस वार्ता कर विपक्ष की भूमिका पर भी प्रहार किया जाएगा। मंत्री हरक सिंह रावत, धनसिंह रावत,अरविंद पांडे व मदन कौशिक के अलावा 10 दायित्वधारी विभिन्न जिलों में पत्रकार वार्ता करेंगे।

नंद प्रयाग नगर पंचायत अध्यक्ष हिमानी वैष्णव ने वीडियो संदेश में कहा कि कृषि सुधार बिल किसानों के लिए लाभदायक हैं इसमें एमएसपी जारी रहेगी एवं किसान एपीएमसी मंडियों के अलावा भी अपनी फसल अन्य राज्य व ऑनलाइन बेच सकते हैं जिससे कि सीधा फायदा किसानों को होगा और इसमें पारदर्शिता बनी रहेगी बिचौलिया राज खत्म हो जाएगा।

Uttarakhand news Uttarakhand news Uttarakhand news Uttarakhand news Uttarakhand news
डॉ हिमानी वैष्णव

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *