उत्त्तराखण्ड पुलिस को स्मार्ट पुलिस की राह पर ले जाएगी नयी कवायद

गृह सचिव नितेश झा ने पुलिस मुख्यालय में ली बैठक


पुलिस को स्मार्ट, संवेदनशील, जवाबदेह और भरोसेमंद बनाने को कई अहम निर्णय

राज्य पुलिस मुख्यालय में सोमवार शाम को पुलिस व गृह विभाग की अहम बैठक

20 वर्षों में काफी कुछ हासिल किया, अभी भी काफी कुछ हासिल करना है: अशोक कुमार

अविकल उत्त्तराखण्ड

देहरादून। राज्य पुलिस मुख्यालय में सोमवार शाम को पुलिस व गृह विभाग की अहम बैठक में पुलिस को स्मार्ट, संवेदनशील, आधुनिक, जवाबदेह और भरोसेमंद बनाने के लिए कई अहम निर्णय लिए गए।


डीजीपी अशोक कुमार ने कहा कि उत्तराखंड पुलिस ने इन 20 वर्षों में काफी कुछ हासिल किया है। लेकिन, अभी भी हमें काफी कुछ हासिल करना है। सचिव गृह नितेश कुमार झा ने कहा कि उत्तराखंड पुलिस को स्मार्ट पुलिस बनाने में शासन पुलिस मुख्यालय के साथ है और हम पूरा सहयोग करेंगे।

Uttarakgand police

बैठक में अपर सचिव गृह अतर सिंह, अपर पुलिस महानिदेशक सीबीसीआईडी/पीएसी पीवेके प्रसाद, पुलिस महानिरीक्षक गढ़वाल रेंज अभिनव कुमार, पुलिस महानिरीक्षक, संचार अमित सिन्हा, पुलिस महानिरीक्षक पी/एम वी मुरूगेशन, पुलिस महानिरीक्षक कुम्भ संजय गुंज्याल, पुलिस महानिरीक्षक अपराध एवं कानून व्यवस्था एपी अंशुमान,, पुलिस महानिरीक्षक कार्मिक पुष्पक ज्योति,उपमहानिरीक्षक रिद्धिम अग्रवाल सहित अन्य पुलिस अधिकारी उपस्थित रहे।

Uttarakgand police

बैठक में इन बिंदुओं पर सैद्धान्तिक सहमति बनी

1. पुलिस की mobility में गुणात्मक परिवर्तन किया जाएगा, जिससे किसी भी घटना में पुलिस का रिसपाॅन्स टाईम बेहतर हो।
2. सिटी पेट्रोल एवं हाइवे पेट्रोल कार की संख्या में 100 स्कोर्पियो वाहनों की वृद्धि की जाएगी।
3. पीएसी के वाहन, जो जर्जर हालत में हैं उन्हें हटाकर नए वाहन लिए जाएंगे। वाहनों को पहाड़ों के अनुरूप modify कर उन्हें स्मार्ट लुक दिया जाएगा।
4. स्मार्ट यूनिफाॅर्म की दिशा में भी कार्य किया जाएगा। पीएसी की combat यूनिफार्म पर भी कार्य होगा।

Uttarakgand police


5. E-Beat book सिस्टम लागू किया जाएगा।
6. Traffic eyes app को और अधिक सुदृढ़ किया जाएगा, जिससे सड़क पर यातायात नियमों का उल्लंघन करने वालों की सूचना आम जन पुलिस को दे सके। Traffic eyes app की तर्ज पर एक Public eyes app बनाया जाएगा, जिससे लोग किसी भी अपराध, ड्रग्स आदि से सम्बन्धित कोई भी सूचना पुलिस तक पहुंचा सकें।
7. सड़क दुर्घटना में घायल लोगों की मदद करने वालों के लिए पुरस्कार योजना बनायी जाएगी, जिसमें पुलिस महानिदेशक, उत्तराखण्ड द्वारा 01 लाख तक का इनाम दिया जाएगा।

Uttarakgand police


8. Tourist Police के नए स्वरूप, infrastructure, प्रशिक्षण पर कार्य कर उसे और अधिक स्मार्ट और जन उपयोगी बनाया जाएगा।
9. पुलिस महानिदेशक, उत्तराखण्ड की ओर से पुलिस कर्मियों हेतु पुरस्कार राशि को 20 हजार से बढ़ाकर 01 लाख किया जाएगा।
10. पुलिस मुख्यालय के नए भवन की स्थापना की जाएगी।
11. सिटी पुलिस को शाॅर्ट रेंज वैपन्स दिये जाएंगे। पीएसी एवं आम्र्ड पुलिस में लाॅन्ग रेंज वैपन्स में इनसास को लाने का प्रयास किया जाएगा।
12. फायर सर्विस में महिलाओं का प्रतिनिधित्व शुरू किया जाएगा।
13. थाने के रिकार्डस का डिजिटलाइजेशन किया जाएगा।
14. e-summons को रेगुलर प्रेक्टिस में लाया जाएगा।
15. थाने, चौकी, आईआरबी तृतीय, नए फायर स्टेशन के निर्माण के लिए भी अधिकतम बजट उपलब्ध कराएंगे।
16. कांस्टेबल एवं उपनिरीक्षक की भर्ती एवं पदोन्नति की रूकावटों का जल्द समाप्त किया जाएगा।

Uttarakhandnews

Leave a Reply

Your email address will not be published.