खुलासा-सुबोध उनियाल को हरीश रावत अपना साथी क्यों नहीं बना पाए ?

राहुल जी के पीएम बनने के बाद ही संन्यास सम्भव, हरदा ने भाजपा मंत्री सुबोध को दिया जवाब

मौजूदा मंत्री सुबोध उनियाल को कहा कि तुम्हारे आका के दुराग्रह के कारण अपना साथी नहीं बना  सके

अविकल उत्त्तराखण्ड

देहरादून।

पूर्व सीएम हरीश रावत ने सोशल मीडिया पर भाजपा के मंत्री का नाम लिए बिना साफ कह दिया कि  अभी वो राजनीति से संन्यास लेने के मूड में नही है। 2024 में राहुल गांधी के पीएम बनने के बाद ही यह सम्भव होगा। तब तक करें इंतजार।

साथ ही यह भी कहा कि तुम्हारे राजनीतिक आक के दुराग्रह के कारण अपना साथी (मंत्री पद) नहीं बना सके।

गौरतलब है कि कांग्रेस से भाजपा में आये कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल का हरीश रावत पर किया गया कमेंट मीडिया की सुर्खी बना था। उनियाल ने कांग्रेस को डूबता हुआ जहाज बताते हुए हरीश रावत पर भी तीखी टिप्पणी की थी। हरीश रावत ने यह भी खुलासा किया कि उनके राजनीतिक आका के दुराग्रह की वजह से वह उनको (सुबोध उनियाल) को अपना साथी नही बना सके। मतलब अपनी कैबिनेट में मंत्री नहीं बनाया।
मंत्री सुबोध उनियाल के आरोप के जवाब में हरीश रावत ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट की।

Uttarakhandnews

Leave a Reply

Your email address will not be published.