UttarakhandDIPR

राज्य कर विभाग ने 95 लाख की कर चोरी का किया पर्दाफाश

देहरादून के स्क्रैप डीलर A And A trading कंपनी, चूना भट्टा, के गोदाम में कर विभाग का छाप

अविकल उत्तराखंड

देहरादून। राज्य कर विभाग की विशेष अनुसंधान इकाई ने चूना भट्टा स्थित आयरन एंड स्क्रैप डीलर के यहाँ करीब 95 लाख रूपए की कर चोरी का पर्दाफ़ाश किया. Tax evasion

यह जांच विभाग की आशारोड़ी मोबाइल स्क्वायड से मिली अनियमितता की सूचना के आधार पर की गयी. मिली जानकारी नके मुताबिक 12-13 अगस्त की मध्यरात्रि पंजाब जा रहे आयरन स्क्रैप के दो ट्रकों की जांच करने पर सचल दल इकाई ने पाया गया कि माल कारगी चौक के नजदीक ब्राह्मणवाला के जिस व्यापारी के यहाँ से लादा जाना दिखाया गया है उसके यहाँ से नहीं, बल्कि चूना भट्टे के किसी अन्य व्यापारी के यहाँ से लादा गया है.

गाड़ियां रोके जाने के करीब एक घंटे बाद इस माल के दो और बिल चूना भट्टे के एक दूसरे स्क्रैप डीलर के यहाँ से बनाए गए. अगले दिन सचल दल, आशारोड़ी ने इन गाड़ियों में लादे स्क्रैप पर करीब तीन लाख रूपए से अधिक का जुर्माना वसूला. यह सूचना मिलने पर ज्वाइंट कमिश्नर (प्रवर्तन) विजय प्रकाश सिंह ने तत्काल सम्बंधित डीलर की जांच के आदेश दिए.

ज्वाइंट कमिश्नर के निर्देश पर उपायुक्त (प्रवर्तन) यशपाल सिंह ने सहायक आयुक्त जयदीप रावत और अमित कुमार के साथ तत्काल चूना भट्टे के स्क्रैप डीलर A And A trading कंपनी, चुना भट्टा, के गोदाम पर छापा मारा. जांच में पाया गया कि मौके पर करीब एक करोड़ रूपए के आयरन स्क्रैप का स्टॉक है ही नहीं और व्यापारी ने करीब 72 लाख रूपए कम जीएसटी जमा किया है.

उपायुक्त ने बताया कि आयरन स्क्रैप, जिसका करीब गढ़वाल में महज करीब बीस प्रतिशत कारोबार देहरादून से ही होता है, ऐसे में कर चोरी की आशंका काफी अधिक होती है. पिछले साल देहरादून की प्रवर्तन इकाइयों ने आयरन स्क्रैप ले जाने वाली गाड़ियों पर कार्यवाही करते हुए एक करोड़ पैंतीस लाख रूपए से अधिक का जुर्माना और स्क्रैप डीलर्स से एक करोड़ रुपए से अधिक का नियमित नकद कर उनके रिटर्न की स्क्रूटिनी से जमा कराया था. जुर्माना और कर जमा कराए जाने का यह क्रम इस वर्ष भी लगातार जारी है. उन्होंने बताया कि आयरन स्क्रैप के कारोबार पर विभाग की पैनी नज़र है और स्क्रैप के डीलर्स पर कार्यवाहियां जारी रहेंगी.

Uttarakhandnews Uttarakhandnews Uttarakhandnews Uttarakhandnews

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content of this site is protected under copyright !!