zydex

… तो सरिता-सविता भरेंगी नयार घाटी के आसमान पर उड़ान

सरिता व सपना उत्तराखंड की पहली लड़की पैराग्लाइडर होगी

नवंबर में नयार घाटी में लगेगा रोमांचक खेलों का मेला

हिमाचल के बीर बिलिंग में बिलखेत के युवक-युवतियों ने लिया पैराग्लाइडिंग की सफल ट्रेनिंग

अविकल उत्त्तराखण्ड

नयार घाटी,सतपुली,पौड़ी गढ़वाल।
उत्त्तराखण्ड के बहुत से खूबसूरत लेकिन उपेक्षित इलाकों में पौड़ी गढ़वाल की नयार घाटी को भी शुमार किया जाता रहा है। इस इलाके में छाया सन्नाटा अब धीरे धीरे टूटने लगा है। सैकड़ों बार कोटद्वार-सतपुली-पौड़ी के ट्रैक पर आना जाना लगा रहा । सतपुली में कुछ पल ठहर छोले व माछा भात खाकर गंतव्य की ओर बढ़ जाते रहे।

Tourism uttarakhand

उत्तर प्रदेश से लेकर उत्त्तराखण्ड गठन के 20 साल तक के इतिहास में  किसी भी अलम्बरदार ने किनारे पर पड़े इस रूट के दिन संवारने का कोई खाका तैयार नही किया। हरिद्वार-ऋषिकेश से मसूरी की ओर बढ़ रहे पर्यटक को कैसे कोटद्वार-लैंसडौन-सतपुली-पौड़ी तक खींचे।

बिलखेत की सरिता

कई पर्यटक सर्किट बने । लेकिन वो सर्किट किस सर्किट में चक्करघिन्नी खा गए किसी को नही पता। पौड़ी से कई सीएम हुए। बड़े बड़े नेता हुए। लेकिन तस्वीर बदरंग ही रही। अब उजाड़-खबाड कहे जाने वाले इस रूट पर अब सरकारी स्तर पर कुछ हलचल दिखाई दे रही है। इस हलचल के सुखद परिणाम आने की उम्मीद है।

बिलखेत की सविता

अब कुछ दिन इस इलाके में बिताए जाने व रोमांचकारी खेलों का आनंद लेने का करीब आ गया। स्वादिष्ट मछलियों के लिए मशहूर नयार नदी के इलाके में स्थानीय युवक व युवती जल्दी ही पैराग्लाइडिंग के जरिये आसमान की ऊंचाई नापते नजर आएंगे। स्वरोजगार के दरवाजे भी खुलेंगें।

पौड़ी के जिलाधिकारी धीराज गर्ब्याल ने बताया कि पौड़ी जिले के प्रशिक्षु पैराग्लाइडर्स को बीर-बिलिंग, हिमांचल प्रदेश में ट्रेनिंग दिलवाई गई। बिलखेत गांव की सरिता- सविता व अखिलेश ने हिमाचल में प्रशिक्षण कोर्स सफलता पूर्वक पूरा किया। और सफल उड़ान भरी।

इस ट्रेनिंग के बाद उत्तराखंड व पौड़ी जिले को स्थायी महिला पैरा ग्लाइडर भी मिल गयी। स्थानीय लड़कियां अब इस फील्ड में अपना भविष्य भी बनाएंगी और स्वरोजगार की दिशा में भी आगे बढ़ेगी।

पैरा ग्लाइडर सरिता रावत

इस  पहली उड़ान के साथ ही अब पौड़ी ज़िले को स्थाई पैराग्लाइडर्स और पौड़ी जिले में  साल भर पैराग्लाइडिंग की सम्भावनाओं के साथ रोजगार के अवसर भी बढने की उम्मीद जग गयी है . डीएम धीराज गर्ब्याल का कहना है कि नयार घाटी में स्थाई पैरा ग्लाइडर मिलने से लैंसडौन तक आ रहे पर्यटक सतपुली की ओर रुख करेंगे। इससे स्थानीय निवासियों की आय में भी बढोतरी होगी।

Tourism uttarakhand
पौड़ी जिलाधिकारी, धीराज गर्ब्याल । बहुरेंगे पौड़ी के दिन

जिलाधिकारी गर्ब्याल बताते हैं कि सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत जी का सपना है कि यह इलाका देश के पर्यटन मैप पर नजर आए। उन्होंने कहा कि हिमाचल में ट्रेनिंग लेने के बाद स्थानीय लड़के व लड़कियां उत्साह से लबरेज हैं। नवंबर में नयार घाटी में होने वाले रोमांचक खेल महोत्सव में नयार नदी में राफ्टिंग, नौकायन के अलावा हवा में परवाज भरते दिखेंगे प्रदेश व देश के कई खिलाड़ी।

Uttarakhand news Uttarakhand news Uttarakhand news Uttarakhand news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *