…तो इस बार गैरसैंण में मनेगी उत्त्तराखण्ड की सालगिरह

अविकल उत्त्तराखण्ड


मुख्यमंत्री राज्य स्थापना दिवस पर गैरसैंण से करेंगे विकास कार्यों का लोकार्पण/शिलान्यास
देहरादून। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत की अध्यक्षता में मंगलवार को मुख्यमंत्री आवास में आयोजित बैठक में राज्य स्थापना दिवस पर होने वाले कार्यक्रमों की रुपरेखा तय की गई। मुख्यमंत्री ने स्थापना दिवस के कार्यक्रमों को राज्य मुख्यालय के साथ ही सभी जिला मुख्यालयों में सादगी के साथ गरिमामय ढंग से आयोजित करने के निर्देश दिए।


बैठक में तय किया गया कि 8 नवंबर से 11 नवंबर तक देहरादून एवं अन्य जिलों के मुख्य राजकीय भवनों को प्रकाशमान किया जायेगा। 8 नवम्बर को मुख्यमंत्री माउण्टेन बाईक रैली और प्रदेश के समस्त डिग्री कालेजों में फ्री वाई-फाई कनेक्टिविटी का डोईवाला से शुभारम्भ करेंगे। मुख्यमंत्री इसी दिन डोबरा-चांटी पुल का भी लोकार्पण करेंगे।


9 नवम्बर को मुख्यमंत्री प्रातः 9ः30 बजे उत्तराखण्ड राज्य गठन में शहीद हुए शहीदों को देहरादून स्थित शहीद स्मारक में श्रद्धांजलि आर्पित करेंगे। इसके बाद प्रातः 9ः55 से 12ः00 बजे तक पुलिस लाइन देहरादून में ‘‘राज्य स्थापना परेड’’ एवं विकास पुस्तिका का विमोचन किया जायेगा। समारोह में पुलिस बल द्वारा साहसिक करतब का आयोजन किया जायेगा।


मुख्यमंत्री 9 नवम्बर को अपराह्न में गैरसैंण (भराड़ीसैंण) के लिए प्रस्थान करेंगे। गैरसैंण (भराड़ीसैंण) में आईटीबीपी एवं पुलिस की परेड और सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया जायेगा। 10 नवम्बर को मुख्यमंत्री गैरसैंण (भराड़ीसैंण) में स्थानीय भ्रमण के अन्तर्गत वीर चन्द्र सिंह गढ़वाली की दूधातोली स्थित समाधि में पुष्पांजलि अर्पित करेंगे। तत्पश्चात गैरसैंण (भराड़ीसैंण) में विभिन्न विकास कार्यो का लोकार्पण/शिलान्यास करेंगे।


बैठक में निर्णय लिया गया कि जिला मुख्यालयों में होने वाले कार्यक्रमों में प्रभारी मंत्री को मुख्य अतिथि के रूप में आमंत्रित किया जायेगा। इन्हीं कार्यक्रमों में संबंधित जिले की योजनाओं का शिलान्यास/लोकार्पण किया जाएगा। यह भी तय किया गया कि कोविड-19 के चलते समारोह में चुनिंदा लोगों को ही आमंत्रित किया जायेगा।
बैठक में कैबिनेट मंत्री अरविंद पाण्डे, राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार डॉ. धन सिंह रावत, सचिव वित्त अमित नेगी, सचिव मुख्यमंत्री राधिका झा एवं अपर सचिव मुख्यमंत्री तथा महानिदेशक सूचना डॉ. मेहरबान सिंह बिष्ट उपस्थित थे।

Uttarakhandnews

Leave a Reply

Your email address will not be published.