नयार एडवेंचर फेस्टिवल-पर्यटन मंत्री महाराज ने पौड़ी जिला प्रशासन को दिए फुल नंबर लेकिन आयोजन से दूर ही रहे

एडवेंचर फेस्टिवल में पर्यटन मंत्री महाराज की गैरमौजूदगी से उठे कई सवाल

पैराग्लाइडिंग ट्रेनिंग सेंटर खोलने पर सीएम त्रिवेंद्र को सराहा

साहसिक पर्यटन गतिविधियों से स्थानीय लोगों को मिलेगा रोजगार: महाराज

अविकल उत्त्तराखण्ड

देहरादून। हालांकि, पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज चार दिवसीय प्रथम नयार घाटी एडवेंचर फेस्टिवल में शिरकत नहीं कर पाए लेकिन रविवार को हुए समापन समारोह के बाद उन्होंने डीएम पौड़ी धीराज गर्ब्याल को खूब शाबासी दी। इससे पूर्व, उदघाटन समारोह में भी सीएम समेत मौजूद सभी जनप्रतिनिधि भी डीएम धीराज गर्ब्याल की तारीफ कर चुके है।

रविवार की सांय 4 बजे जारी प्रेस नोट में पर्यटन मंत्री महाराज ने इस सफल आयोजन के लिए जिला प्रशासन की पीठ थपथपाई। फेस्टिवल के समापन के बाद पर्यटन मंत्री महाराज के उदगार भी रहस्य की एक लंबी लाइन खींच गए।

Tourism Nayar valley festival
नयार वैली के आकाश में उड़े साहसिक खेलों के जाबांज

सतपाल महाराज ने नयार घाटी में मुख्यमंत्री द्वारा पैराग्लाइडिंग एकेडमी खोलने की घोषणा का स्वागत करते हुए कहा कि इससे जहाँ एक ओर साहसिक खेलों को बढ़ावा मिलेगा वहीं दूसरी ओर इससे प्रदेश के युवाओं को रोजगार से जुड़ने के अवसर भी प्राप्त होंगे।

पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज


उन्होंने, बिलखेत (सतपुली) पौड़ी गढ़वाल स्थित नयार वैली में 4 दिनों तक चले प्रथम साहसिक खेल महोत्सव के सफल आयोजन के लिए जिला प्रशासन को बधाई देते हुए कहा कि प्रदेश में साहसिक खेलों की अपार संभावनाएं हैं।

उन्होने कहा कि प्रथम नयार वैली साहसिक खेल महोत्सव के आयोजन से अपने उद्देश्य में सफल होते दिखाई दे रहे हैं।  महाराज ने कहा कि राफ्टिंग, क्याकिंग और पैराग्लाइडिंग आदि साहसिक खेलों के लिए राज्य का पर्यटन विभाग पूरी मुस्तैदी के साथ कार्य कर रहा है। प्रदेश में नए-नए पर्यटक स्थलों को तलाश कर उनका सुनियोजित विकास किए जाने की दिशा में लगातार प्रयास चल रहा है। कोविड के चलते पर्यटन क्षेत्र में उत्पन्न हुए अवरोध को हमने अवसर में बलने काम किया है। स्थिति में तेजी से सुधार हो रहा है।

Tourism Nayar valley festival

उत्तराखंड साहसिक एवं रोमांचक खेलों के लिए एक बेहतरीन स्थान है। पर्यटन की अन्य गतिविधियों के अलावा यहाँ पर वर्ष भर साहसिक पर्यटन  की गतिविधियों को संचालित कर स्थानीय लोगों को रोजगार उपलब्ध करवा सकें।

 
उन्होने कहा कि सतपुली और खैरासैण झील का निर्माण भी सरकार की प्राथमिकताओं में है। उन्होंने आशा व्यक्त करते हुए कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री शीघ्र ही इन झीलों के निर्माण भी करवाएंगे।

सीएम त्रिवेंद्र के बाद पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज से मिली शाबासी

पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने कहा कि उनका शुरू से ही प्रयास रहा है कि प्रदेश के साथ-साथ नयार घाटी में लगातार साहसिक पर्यटन गतिविधियों का संचालन कर स्थानीय लोगों को वर्षभर रोजगार  उपलब्ध करवाने की दिशा में कार्य किया जाए। इसी सोच को दृष्टिगत रखते हुए हाल ही में सतपुली में पर्यटक आवास गृह की आधारशिला भी रखी गई।

इस ऐतिहासिक सफल नयार घाटी खेल महोत्सव में पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज की गैरमौजूदगी चर्चा का विषय भी बनी। पर्यटन से जुड़ा आयोजन और बिना पर्यटन मंत्री महाराज की भागीदारी के सम्पन्न  भी हो गया। फेस्टिवल से कैबिनेट मंत्री महाराज की गैरहाजिरी व अब ताजी इस प्रतिक्रिया के कई मायने निकाले जा रहे हैं।

Uttarakhandnews

Leave a Reply

Your email address will not be published.