हरक को पता नहीं और श्रमायुक्त दीप्ति सिंह कर्मकार कल्याण बोर्ड की सचिव बन गईं। देखें आदेश

अविकल उत्त्तराखण्ड


देहरादून। हल्द्वानी में तैनात दीप्ति सिंह को उत्तराखंड भवन एवं सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड का सचिव नियुक्त किया गया है। मंत्री हरक सिंह की नाराजगी के बाद सीएम त्रिवेंद्र का यह एक दबावरहित फैसला माना जा रहा है।

दीप्ति सिंह श्रमायुक्त हल्द्वानी का कामकाज भी पूर्व की भांति देखती रहेंगी। सोमवार को अपर मुख्य सचिव राधा रतूड़ी ने दीप्ति सिंह की नियुक्ति के आदेश जारी किए।

Uttarakhand labour harak


उत्तराखंड भवन एवं सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड अध्यक्ष पद से कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत को हटाने के बाद सरकार ने दमयंती रावत को भी गुरुवार को बोर्ड के अपर कार्याधिकारी (कामचलाऊ सचिव) पद से हटा दिया। दमयंती रावत को उनके मूल विभाग शिक्षा में वापस भेजा गया।

इस आदेश के बाबत स्वंय श्रम मंत्री को भी पता नही चल पाया। कर्मकार कल्याण बोर्ड से हटाए जाने के बाद शासन स्तर पर जांच का काम भी तेजी से शुरू हो गया है। कर्मकार बोर्ड को ओर से किये गए करोड़ों के भुगतान की फ़ाइल नहीं मिलने से भी आलाधिकारी असमंजस में है। श्रम मंत्री भी अभी तक कोई ठोस कदम नहीँ उठा पाए हैं। इधर, सूत्रों का कहना है कि सीएम करोड़ों के भुगतान को लेकर काफी गंभीर रुख अपनाए हुए हैं। अपने ही मंत्री हरक की नाराजगी से बेपरवाह सीएम ने सचिव पद पर पीसीएस अधिकारी को नियुक्ति कर मंत्री हरक को साफ सन्देश देने की कोशिश की।

Uttarakhandnews

Leave a Reply

Your email address will not be published.