zydex

सेक्स स्कैंडल-पर्चे पर प्रिंट मोबाइल नंबर से पकड़े गए विधायक जी, पीड़िता को लेकर गए थे सिनर्जी अस्पताल ।

सिनर्जी में पीड़िता का इलाज करवाया था भाजपा विधायक महेश नेगी ने। खबर पक्की।

पीड़िता के साथ 30 जुलाई 2019 को अपनी भी कराई थी जांच

हीलाहवाली कर रहा सिनर्जी प्रबंधन प्रिंट आउट से हुआ खामोश, दो चिकित्सक व कर्मचारियों के लिए बयान

जांच अधिकारी ने कब्जे में लिए अस्पताल से जुड़े दस्तावेज

मसूरी के मधुबन होटल व विधायक हॉस्टल के बाद सिनर्जी अस्पताल में भी विधायक व पीड़िता से जुड़े तथ्य मिले

प्रधानमंत्री मोदी को पत्र भेज सीबीआई जांच की मांग

जांच अधिकारी की एसपी क्राइम से शिकायत। पीड़िता ने लिखा पत्र

अविकल उत्त्तराखण्ड

देहरादून। अस्पताल के पर्चों से यह भी साबित हो गया कि भाजपा विधायक महेश नेगी ने पीड़िता का इलाज सिनर्जी अस्पताल में करवाया था। तारीख थी 30 जुलाई 2019.

उत्त्तराखण्ड के  चर्चित सेक्स स्कैंडल में देहरादून में मंथर गति से चल रही स्थान शिनाख्त की अगली कड़ी में जांच अधिकारी आशा पंचम पीड़िता के साथ सिनर्जी अस्पताल पहुंची।

Uttarakhand sex scandal

पीड़िता के वकील एस पी सिंह ने बताया कि सिनर्जी अस्पताल के MD कमल गर्ग ने पहले तो विधायक महेश नेगी के अस्पताल में आने से साफ इंकार कर दिया। लेकिन पीड़िता के स्टैंड लेने के बाद कंप्यूटर से निकाले गए अस्पताल के पर्चे से साफ हो गया कि भाजपा विधायक महेश नेगी ने 30 जुलाई 2019 को पर्चा बनवा कर अलनी जांच करवाई थी। समय था सुबह 8 बजकर 45 मिनट। जबकि 6 मिनट पहले इसी दिन पीड़िता ने भी जांच करवाई थी।

Uttarakhand sex scandal

जांच के दौरान शुरुआत में प्रबंधन ने महेश नेगी के अस्पताल से जुड़े रिकॉर्ड को कोई अन्य व्यक्ति मान कर टालने की कोशिश की।  लेकिन पर्चे पर विधायक महेश नेगी के मोबाइल नंबर प्रिंट होने से सारा राज खुल गया। इस मोबाइल नंबर को पीड़िता ने पॉइंट आउट किया। पर्चे पर विधायक का मोबाइल नंबर 9412085085 प्रिंट था। इससे साफ जाहिर हो गया कि विधायक महेश नेगी पीड़िता को लेकर देहरादून के सिनर्जी अस्पताल पहुंचे थे।

मामले से धुंध हटते ही जांच अधिकारी ने विधायक महेश नेगी व पीड़िता से जुड़े सभी दस्तावेज अपने कब्जे में ले लिए। इसके अलावा दो चिकित्सक व कर्मचारियों के बयान लिए।

पीड़िता ने अपने मुकदमे में कहा है कि विधायक महेश नेगी 28 जुलाई से 30 जुलाई 19 तक लगातार तीन दिन उसे लेकर सिनर्जी अस्पताल आये थे। और लगातार तीन दिन मेडिकल जांच करवाई थी। पीड़िता ने 18 मई 2020 को बेटी को जन्म दिया था।

दूसरी ओर, इस मामले की जांच कर रही पुलिस अधिकारी के रवैये को लेकर एसपी क्राइम को भी शिकायत की गई है। इसके अलावा प्रधानमंत्री मोदी को भी पत्र भेजा गया है। गुरुवार को ही जांच टीम ने मधुबन होटल से विधायक महेश नेगी से जुड़े बिल व आईडी हासिल की।

सेक्स स्कैंडल, प्रमुख खबरें पढ़ें, plss clik

सेक्स स्कैंडल-पीड़िता को फ्लैट नंबर 62 में बंद कर गए थे भाजपा विधायक महेश नेगी।

Uttarakhand news Uttarakhand news Uttarakhand news Uttarakhand news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *